नेशनल

कोर्ट के आदेश की धज्जियां उड़ाने में अपनी शान समझते हैं हिंदुस्तानी: चीफ जस्टिस

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
198
| जुलाई 31 , 2017 , 12:46 IST | नई दिल्ली

सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जे.एस. खेहर ने अदालत के आदेश ना मानने और नियम तोड़ने वालों पर चिंता जताते हुए तंज कसा है। उन्होंने कहा है- भारतीय लोग कानून को तोड़ना और कोर्ट के आदेशों की धज्जियां उड़ाने में अपनी शान समझते हैं। उन्होंने शुक्रवार को एक मामले की सुनवाई करते समय कोर्ट में ही ये टिप्पणी दी।

_93032181_jagdish-singh-khehar-cji-be-sworn-as_a8fe8e3a-bbbe-11e6-a898-3949986517f3

एक अंग्रेजी अखबार की माने तो जस्टिस खेहर ने दिल्ली के लाजपत नगर में एक इंस्टीट्यूट के हेड दिनेश खोसला के द्वारा घर की बिल्डिंग का उपयोग कमर्शियल के तौर पर करने के मामले की सुनवाई कर रहे थे, उसी दौरान उन्होंने ये टिप्पणी की।

इस दौरान जस्टिस खेहर ने कहा कि तरक्की वाले देश में कानून का पालन होना ही चाहिए। अगर कानून का पालन नहीं होगा, तो अपराध बढ़ेंगे और लोगों को सजा भुगतनी ही पड़ेगी। गौरतलब है कि जस्टिस खेहर का कार्यकाल 24 अगस्त को पूरा हो रहा है। उनके बाद जस्टिस दीपक मिश्र देश के अगले सीजेआई बनेंगे।


कमेंट करें