ख़ास रिपोर्ट

...इसे कहते हैं सही इस्तेमाल, प्लास्टिक की खाली बोतलों से बना डाला बस पड़ाव (वीडियो)

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
214
| मई 14 , 2017 , 18:00 IST | हैदराबाद

हैदराबाद में एक ऐसा बस पड़ाव बनाया गया है जिसमें ईंट-गारे और पत्थर का नहीं बल्कि खाली प्लास्टिक बोतलों का इस्तेमाल किया गया है। इस बस शेल्टर के निर्माण के लिए सैकड़ों बार प्रयास किए गए थे और बार-बार बस शेल्टर टूट जाता था। लेकिन इस बार निर्माणकर्ता ने सफलता हासिल कर ली है।

Plastic 2

बता दें कि उप्पल के स्वरुपनगर कोलोनी के निवासी कई महीनों से ग्रेटर हैदराबाद म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन को लोकल बस स्टॉप पर बस शेल्टर निर्माण के लिए आवेदन दे रहे थे, लेकिन उनके आवेदन पर सुनवाई नहीं हो रही थी।

कबाड़ी की दुकानों से खरीदे प्लास्टिक के बोतल

हार कर स्वरुपनगर कोलोनी के निवासियों ने फैसला लिया कि खाली फेंके गए प्लास्टिक के बोतलों को ही इस शेल्टर के लिए इस्तेमाल किया जाए। स्थानीय निवासियों ने 1000 से ज्यादा खाली बोतल स्थानीय कबाड़ी के दुकानों से डेढ़ रुपये प्रति बोतल के हिसाब से खरीदा।

Plastic 3

बस शेल्टर बनाने में लगे 15 दिन

प्लास्टिक के बोतलों से बनाए गए इस बस शेल्टर के निर्माण में 15 दिन लगे। इस प्रोजेक्ट को एक स्वंयसेवी संस्था रिसाइकल इंडिया ने अपने नेतृच्व में पूरा किया। इस सेल्टर के निर्माण में बांस और मेटल का भी इस्तेमाल किया गया ताकि प्लास्टिक के बोतल आसानी से टिक सके।

Plastic 1

खर्च हुए सिर्फ 15000

सभी 1000 प्लास्टिक के बोतलों में छेद कर उसमें मोटे घागे घुसाए गए। शेल्टर का फ्रेम मेटल का बनाया गया और उसके छत पर प्लास्टिक के सभी 1000 बोतल चिपकाए गए। इस बस शेल्टर के निर्माण में महज 15000 रुपये के खर्च आए।

देखें वीडियो

 


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव प्रोड्यूसर हैं

कमेंट करें