मनोरंजन

सूरज पंचोली ने ही जिया खान को सुसाइड के लिए उकसाया था, आरोप तय

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
542
| जनवरी 31 , 2018 , 10:00 IST

बॉलीवुड एक्ट्रेस जिया खान को कथित तौर पर आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में मुंबई की एक सत्र अदालत ने बॉलीवुड अभिनेता सूरज पंचोली के खिलाफ मंगलवार को आरोप तय किए हैं। न्यायाधीश केजी शिरभाटे ने सूरज पर जिया को खुदकुशी के लिए उकसाने की धारा 306 के तहत ट्रायल चलाने के आदेश दिए हैं। सूरज के ख‍िलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 306 के तहत 27 वर्षीय अभिनेता के खिलाफ आरोप तय किए गए हैं।

पंचोली ने खुद को बेगुनाह बताया। पंचोली के वकील प्रशांत पाटिल ने कहा,‘‘ सूरज ने खुद को बेगुनाह बताया। गवाहों की जांच 14 फरवरी से शुरू होगी।''

हालांकि अदालत ने उन्हें दोषी नहीं ठहराया है, लेकिन इससे सूरज पंचोली की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। कोर्ट में मामले की सुनवाई के दौरान सूरज के वकील ने उनका बचाव करते हुए फिर दोहराया कि जिया ने खुद आत्महत्या की। उसमें सूरज पंचोली का कोई हाथ नहीं है।

आरोप पत्र के मुताबिक जिया खान तीन जून 2013 को अपने घर में फांसी पर लटकी मृत पाई गई थी। वह दो दिन से सूरज के घर पर रह रही थीं और उसी दिन अपने घर आईं थीं। सीबीआई के मुताबिक सूरज ने पूछताछ में कई तथ्य छुपाए और मनगढंत जानकारियां दी थी। सूरज ने पॉलीग्राफी और ब्रेन मैपिंग टेस्ट करवाने से भी इनकार कर दिया था।

ये भी पढ़ें-अलीबाग में शाहरुख का फार्म हाउस अटैच, खेती के लिए मिली थी जमीन

सीबीआई ने कहा कि जिया ने तीन पन्नों का पत्र मुंबई पुलिस को लिखा था जिसमें कथित तौर पर सूरज के साथ करीबी संबंध, मानसिक और शारीरिक उत्पीड़न के बारे में लिखा था। जिया के खत के अनुसार सूरज की इन करतूत की वजह से ही उसे आत्महत्या करनी पड़ी।

इसके बाद पुलिस ने 10 जून 2013 को सूरज को हिरासत में ले लिया था। सूरज के जमानत पर रिहा होने के बाद अक्तूबर 2013 में जिया खान की मां राबिया खान ने बांबे हाईकोर्ट में याचिका दायर कर कहा था कि उनकी बेटी की हत्या हुई है, इसलिए मामले की सीबीआई जांच होनी चाहिए।


कमेंट करें