इंटरनेशनल

मुशर्रफ ने पाक में की मिलिट्री रुल की वकालत, कहा- तानाशाही देश में तरक्की लाती है

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
112
| अगस्त 3 , 2017 , 16:23 IST | लंदन

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति जनरल (रिटायर्ड) परवेज मुशर्रफ ने एक बार फिर से पाकिस्तान में मिलिट्री रुल की वकालत की है। परवेज मुशरर्फ ने कहा कि सेना देश को हर संकट के बाद ट्रैक पर लाती है, लेकिन सरकारें उसे पटरी से उतार देती हैं। उन्होंने यह बात बुधवार को एक उर्दू चैनल को दिए इंटरव्यू में कहीं। इस दौरान उन्होंने पूर्व मिलिट्री डिक्टेटर्स की तारीफ भी की।

मुशर्रफ ने कहा कि,

सैन्य तानाशाहों ने देश को हमेशा सही रास्ते पर लाया है, लेकिन जहां तक सिविलियन गवर्नमेंट्स की बता है कि उन्होंने इसे बर्बाद किया है

मुशर्रफ का दावा- मिलिट्री रूल हमेशा पाकिस्तान में तरक्की लाया है

मुशर्रफ ने कहा कि जहां तक पाकिस्तान में मार्शल लॉ लागू करने की बात है, "यह वक्त की जरूरत थी। उन्होंने कहा कि देश की तरक्की होनी चाहिए, भले तानाशाही रहे। उन्होंने कहा कि सभी एशियाई देशों ने तानाशाही में तरक्की देखी है। जब तक तरक्की और खुशहाली रहती है इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि देश की अवाम की चुनी सरकार पाकिस्तान की सत्ता चला रही है या एक तानाशाह।

उन्होंने आगे कहा कि चुनाव करवाने और आजादी (जनता को) देने का क्या मतलब अगर देश की तरक्की न हो।

मिलिट्री रुल की जमकर तारीफ की

इंटरव्यू के दौरान मुशर्रफ ने पूर्व तानाशाह फील्ड मार्शल अय्यूब खान और जनरल जियाउल हक के शासन की तारीफ की। उन्होंने भुट्टो को देश को तोड़ने के लिए जिम्मेदार ठहराया। मुशर्रफ ने कहा कि अय्यूब खान ने देश में तरक्की लाने का रिकॉर्ड बनाया।

Zia ul haq

जनरल जिया के शासन का जिक्र करते हुए मुशर्रफ ने कहा कि अफगानिस्तान के हमले के वक्त सोवियत यूनियन के खिलाफ अमेरिका और मुजाहिदीन की मदद का तानाशाह का फैसला सही था। हालांकि, उन्होंने माना कि जनरल जिया का शासन विवादित था।
उन्होंने कहा कि नवाज शरीफ का तख्तापलट जनता की डिमांड थी

तख्तापलट का भी जिक्र किया

मुशर्रफ ने 1999 के तख्तापलट का भी जिक्र किया, जिसमें उस वक्त के पीएम नवाज शरीफ की अवाम की चुनी हुई सरकार से सत्ता छीन ली गई थी। उन्होंने कहा कि तख्तापलट किया गया, क्योंकि यह देश के लोगों की मांग थी। मुशर्रफ ने आगे कहा कि पाकिस्तान के सिटिजंस को चुनी हुई सरकार को बेदखल करने का हक दिया जाना चाहिए।

 


कमेंट करें