मनोरंजन

जबरदस्त कहानी है 'राजी'....(मूवी रिव्यू)

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
941
| मई 11 , 2018 , 13:21 IST

फिल्म इंडस्ट्री में आलिया भट्ट हर फिल्म के साथ निखरती ही जा रही हैं, 2012 में 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर' से लेकर 'राज़ी' तक आलिया काफी परिपक्व हो चुकी हैं। आलिया भट्ट की राज़ी आज सिनेमाघरों में रिलीज़ हो चुकी है। निर्देशक मेघना गुलजार की इस बेहतरीन फिल्‍म में 'सहमत खान' के किरदार में आलिया ने कमाल कर दिया है। मेघना गुलजार के कसे हुए निर्देशन, जबरदस्‍त कहानी और हर किरदार के शानदार अभिनय ने 'राजी' को एक बेहतरीन फिल्‍म बना दिया है। विक्‍की कौशल और आलिया भट्ट की यह फिल्‍म दिल जीतने में पूरी तरह सफल रही है।

कहानी-

राजी एक युवा भारतीय जासूस सहमत (आलिया भट्ट) की सच्ची कहानी है। बात उस दौर की है, जब 1971 में भारत और पाकिस्तान के बीच तनावपूर्ण माहौल बना हुआ था, जो बाद में युद्ध का कारण बनता है। हरिंदर सिक्का के नॉवेल 'सहमत कॉलिंग' पर बेस्ड यह फिल्म हमें एक रोमांचकारी यात्रा पर ले जाती है,क्योंकि सहमत के हाथों में एक बहुत ही कठिन काम है। सहमत के पिता (रजित कपूर) इंडियन इंटेलिजेंस में एजेंट हैं और वे अपनी बेटी को भी यही जिम्मेदारी सौंपना चाहते हैं, जो कि अभी स्टूडेंट है। प्लान के तहत वे सहमत की शादी पाकिस्तानी मिलेट्री ऑफिसर के बेटे (विक्की कौशल) से करा देते हैं। इस तरह सहमत को पाकिस्तानी जनरल के घर में आसानी से एंट्री मिल जाती है। सहमत का पति उसे बेहद प्यार करता है। बावजूद इसके उसके ऊपर अपने ही परिवार की जासूसी करने का कठिन काम है। एक स्टूडेंट को अचानक मोर्स कोड, सेल्फ डिफेंस और और सीक्रेट रेडियो सिग्नल्स की दुनिया में छोड़ दिया जाता है। 20 साल की एक लड़की, जो खून के आसपास खड़ी भी नहीं हो सकती, उसे किसी को मारने के लिए मजबूर किया जाता है। सहमत की यह यात्रा थ्रिलर से ज्यादा इमोशनल है।

एक्‍ट‍िंग-

आल‍िया भट्ट ने इस फ‍िल्‍म के ल‍िए क‍ितनी मेहनत की है, वो उनके अभ‍िनय के हर अंश में झलकता है। कहानी के साथ आल‍िया ने एक्‍ट‍िंग और एक्‍सप्रेशंस से पूरा न्‍याय क‍िया है। आल‍िया भट्ट ने इस फ‍िल्‍म से कई द‍िग्‍गज अभ‍िनेत्र‍ियों को टक्‍कर दे दी है। उनके तेवर देखकर कई बार रोंगटे खडे होते हैं और उनके प्रत‍ि सम्‍मान का भाव पैदा हो जाता है।आलिया अपने किरदार में एकदम फिट बैठी हैं। इमोशंस से भरा यह किरदार काफी कठिन है। लेकिन आलिया ने इसे बखूबी निभाया है। पाक आर्मी ऑफिसर के किरदार में विक्की कौशल का काम सराहनीय है। उनका किरदार सहमत से बहुत प्यार करता है और यह भी समझता है कि पाकिस्तान में भारत के खिलाफ हो रहीं बातों से उनके मन पर क्या प्रभाव पड़ रहा होगा। जयदीप अहलावत, रजित कपूर, आरिफ जकारिया और शिशिर शर्मा ने भी अपने-अपने हिस्से की एक्टिंग जबर्दस्त की है।

डायरेक्शन -

मेघना गुलजार का न‍िर्देशन शानदार है, उन्‍होंने एक मुश्‍क‍िल कहानी को रोचक तरीके से परोसा है। वैसे बॉलीवुड का चलन है कि हर हिट और चर्च‍ित फ‍िल्‍म इंडस्‍ट्री में एक नया ट्रेंड शुरू करके जाती है। आलिया भट्ट और मेघना गुलजार की ये फ‍िल्‍म शानदार है और अगर ये अच्‍छा बिजनेस कर जाती है तो तैयार रहें बॉलीवुड में बाकी एक्‍ट्रेस भी जल्‍द ही आपको पर्दे पर जासूसी करती नजर आ सकती हैं। और शायद इसमें वो नाम पहले आएं जो बॉक्‍स ऑफ‍िस पर दर्शकों को खींचने की दम रखते हैं !

म्यूजिक-

फिल्म में ‘दिलबरो’, ‘ऐ वतन’, ‘राजी’ गाने काफी अच्छे हैं जो आपको काफी पसंद आएंगे. खासकर ‘ए वतन’ जो फिल्म के ख़त्म होने के बाद भी आपके जुबान पर चढ़ा रहता है।

क्यों देखें-

पिछले कुछ समय में आई बेस्ट फिल्मों में से एक है 'राज़ी' आलिया की शानदार एक्टिंग, मेघना गुलज़ार के कुशल डायरेक्शन के लिए ये फिल्म जरूर देखी जानी चाहिए। इसके अलावा अगर आप में देशभक्ति कूट-कूट कर भरी है, तो ये फिल्म तो बिल्कुल भी मिस मत करिए।

क्यों नहीं देखें-

वैसे तो फिल्म में कोई कमी नजर नहीं आती, लेकिन अगर आप लाइट फिल्में देखना पसंद करते हैं, एक्शन, मसाला और कॉमेडी ही आपकी प्राथमिकता है, तो ये फिल्म आपको फीकी लग सकती है। ये फिल्म एक खास ज़ोनर के लिए बनी है।


कमेंट करें