अभी-अभी

अयोध्या में बोले योगी, मंदिर निर्माण में सरकार मदद को तैयार, बातचीत से निकलेगा रास्ता

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
84
| मई 31 , 2017 , 19:47 IST | अयोध्या

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में महंत नृत्य गोपाल दास जन्मोत्सव कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि भारत आस्था का देश है। उत्तर प्रदेश के अयोध्या से श्रीराम का नाम जुड़ा हुआ है। योगी ने कहा कि पिछली सरकारों ने अयोध्या पर कोई ध्यान नहीं दिया।

योगी ने कहा कि राम मंदिर विवाद का समाधान बातचीत से निकाला जाए। उन्होंने कहा कि यूपी सरकार मंदिर निर्माण के लिए हर स्तर पर मदद करने के लिए तैयार है। साथ ही उन्होंने कहा कि कई मुस्लिमों ने राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि देने के बात कर एकता का संदेश दिया है। उन्होंने कहा कि अयोध्या से श्रीराम का नाम जुड़ा है। अयोध्या आने पर हर कोई श्रीराम बोलता है।

योगी ने कहा कि धर्म का मकसद लोक कल्याण है। धर्म को संकीर्ण दायरे में नहीं रखना है। अब अयोध्या धाम की उपेक्षा नहीं होगी। जब से केंद्र में मोदी सरकार आई है, तबसे अनेक लोक कल्याणकारी योजनाएं शुरू की गईं हैं। अयोध्या के विकास का श्रेय प्रधानमंत्री मोदी को दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि पहले विश्व हिंदू परिषद ने 84 कोसी परिक्रमा शुरू करने की बात की थी, लेकिन तत्कालीन सरकार ने परिक्रमा नहीं होने दी। योगी ने कहा कि अयोध्या के विकास के लिए 350 करोड़ दिए जाएंगे।

Yogi-ayo-3-new_14962

बता दें कि बुधवार को यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या दौरे पर थे। सीएम बनने के बाद वे पहली बार अयोध्या गए। उनके दौरे को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। मुख्यमंत्री फैज़ाबाद हवाई पट्टी से सुबह 9 बजे अयोध्या आए और फिर वहां से सीधे हनुमानगढ़ी मंदिर पहुंचे। वहां 10 मिनट तक पूजा अर्चना करने के बाद रामलला के दर्शन के लिए पहुंचे। संतों के साथ पूजा-अर्चना की और फिर सरयू घाट पहुंचे। सरयू मां की आरती की और पूजा के बाद राम की पैड़ी का निरीक्षण किया। उसके बाद वे अवध विश्वविद्यालय के लिए रवाना हो गए।

आरती के बाद उन्होंने घाट से एलान किया कि अब बनारस की तरह सरयू तट पर भी आरती होगी। अयोध्या में  सरयू महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। घाटों की मरम्मत की जाएगी। मंदिरों के बाहर जय श्री राम और रामलला हम आएंगे, मंदिर वहीँ बनाएंगे के नारे गूंजे।

 


कमेंट करें