नेशनल

10 करोड़ रुपये की घूस देकर रेप आरोपी गायत्री प्रजापति को मिली जमानत, रिपोर्ट में खुलासा

अनुराग गुप्ता, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
113
| जून 19 , 2017 , 17:13 IST | इलाहाबाद

इलाहाबाद हाईकोर्ट की एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि रेप के आरोप में फंसे उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति की जमानत के लिए 10 करोड़ रुपये की डील हुई थी। रिपोर्ट में सामने आया कि इस डील में वरिष्ठ जज भी शामिल थे।

बता दें कि 25 अप्रैल को गायत्री प्रजापति को अतिरिक्त जिला सत्र न्यायधीश ओ पी मिश्रा ने गैंगरेप केस से जमानत दी थी। जिसके बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस दिलीप बी भोंसले ने मामले की जांच के आदेश दिए थे। इस मामले की सुनवाई के लिए जजों की पोस्टिंग में भी भ्रष्टाचार की बात सामने आई है।

-11e7-87c7-5947ba54d240

रिपोर्ट में कहा गया कि गायत्री प्रजापति को जमानत देने के लिए 10 करोड़ रुपए की डील हुई थी। इस डील में 5 करोड़ रुपये बिचौलिए वकीलों को और बाकी के 5 करोड़ रुपये सुनवाई करने वाले जज ओ पी मिश्रा और उनकी पोस्टिंग कराने वाले जिला जज राजेंद्र सिंह को दिए गए।

इस रिपोर्ट में ओ पी मिश्रा की पॉस्को जज के रूप में नियुक्ति किए जाने पर सवाल उठाए गए हैं। कहा गया हैं कि पहले से तैनात जज लक्ष्मी कांत राठौर को उनके पद से हटाकर रिटायरमेंट से ठीक तीन सप्ताह पहले 7 अप्रैल 2017 को ओ पी मिश्रा की तैनाती का कोई औचित्य और कारण नहीं था। हालांकि हाई कोर्ट की प्रशासनिक समिति ने कार्रवाई करते हुए ओ पी मिश्रा को सस्पेंड कर दिया था और जिला जज राजेंद्र सिंह से पूछताछ की जा रही है।

Allahabad-High-Court

गौरतलब है कि गायत्री प्रजापति को 15 मार्च को गिरफ्तार किया था। उसके बाद उन्होंने 24 अप्रैल को जज ओ पी मिश्रा के कोर्ट में जमानत याचिका दाखिल की। 25 मार्च को जज ओ पी मिश्रा ने उन्हें जमानत दे दी। जबकि मामले की जांच हो रही थी।


कमेंट करें