ख़ास रिपोर्ट

घाटी में 7 महीने में 103 आतंकी ढेर, पिछले 5 सालों का सबसे बड़ा रिकॉर्ड

प्रांजलि सिंह, संवाददाता, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
216
| जुलाई 16 , 2017 , 16:46 IST | श्रीनगर

जम्मू कश्मीर आतंक का गढ़ बन चुका है। लेकिन आतंक की उम्र ज्यादा दिन नहीं होती है। ये बात साबित कर रहे है केवल 7 महीने के आंकड़े जो बता रहे हैं कि, कितनी तेजी के साथ भारतीय सेना ने आतंक का सफाया किया है। पिछले 7 महीने के अंदर भारतीय सेना और सीआरपीएफ के जवानों ने 103 आतंकियों को घाटी में ढेर किया है।

Army 1

7 महीने में 103 आतंकियों को किया ढेर

आपने फिल्म अब तक 56 का नाम तो सुना होगा जिसमें नाना पाटेकर एक पुलिस अधिकारी थे और उन्होंने 56 एनकाउंटर किए थे। लेकिन हम बात कर रहे हैं अब तक 103 आतंकी की जिनका सफाया घाटी में अब तक भारतीय सेना कर चुका है। ये वो आतंकी हैं जो जन्नत में आग लगाने का काम कर रहे थे पर खुद इनकी शामत आ गई। हालांकि कुछ आतंकी और इनके आका अभी भी कतार में खड़े हैं, जिनका ठिकाना जल्द ही हमारे जवान लगाएंगे।

Army 2

पिछले 2 सालों में आतंकियों पर सबसे ज्यादा कार्रवाई

एक रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 5 सालों में पूरे साल में जितने आतंकी मारे गए उससे ज्यादा इस साल केवल 7 महीनों में मार दिए गए, जिसकी वजह घाटी में एक नयी रणनीति बताई जा रही है जिस पर हमारे जवान करवाई कर रहे हैं और उनको सफलता भी मिल रही है। पिछले 2 सालों पर अगर गौर किया जाए तो ये अपने आप में एक रिकॉर्ड है।

देखिये मारे गए आतंकियों की लिस्ट

IMG-20170715-WA0025

IMG-20170715-WA0024

आतंकियों पर किए गए कार्रवाई का रिकार्ड

साल 2015- मारे गए कुल आतंकी 113

साल 2016- मारे गए कुल आतंकी 150

साल 2017- केवल 7 महीनों में 103

आतंक के खिलाफ मुहिम सफल हो रही है

जम्मू कश्मीर में ज़्यादातर जगहों पर आर्मी और CRPF के जवान तैनात है। 103 आतंकियों में से 52 को केवल CRPF के बहादुर जवानों ने मार गिराया है। जबकि बाकीं बचे आतंकी सेना और सीआरपीएफ के ज्वाइंट ऑपरेशन में मारे गए है। अधिकारिक तौर पर भी ये माना गया है, कि बुरहान वानी के बाद जितनी तेजी के साथ आतंकियों की भर्ती हुई उतनी ही तेजी के साथ आतंकियों का खात्मा भी जारी रहा।

Bs

हिजबुल मुजाहिद्दीन और लश्कर का प्लान फेल

मारे गए ज्यादातर आतंकी हिजबुल मुजाहिद्दीन या लश्कर के हैं। साफ है कि, इनका मकसद घाटी में आतंक फैलाना था जिसमें वो काफी कामयाब नहीं रहे।

Bashir lashkari

मारे गए आतंकियों में सबसे खतरनाक जो रहे वो हैं

युनूस मकबूल गनइ - लश्कर-ए-तोयेबा

फ़ैयाज़ अहमद-लश्कर-ए-तोयेबा

सब्ज़ार अहमद भट्ट- हिजबुल मुजाहिद्दीन

फैजान मुज्जफर भट्ट- हिजबुल मुजाहिद्दीन

अबु हरिस- लश्कर-ए-तोयेबा कमांडर

अबु मुसाहिब - लश्कर-ए-तोयेबा कमांडर

बशीर लश्करी- लश्कर-ए-तोयेबा कमांडर

बाकियों का सफाया जल्द

विश्वस्त सूत्र बता रहे हैं कि बाकी बचे आतंकियों के सफाये के लिए पूरी प्लानिंग के तहत कार्रवाई की जा रही है। इस वक़्त तकरीबन 150 आतंकी साउथ कश्मीर में एक्टिव हैं, पर जल्द ही इनका निपटारा भी कर दिया जाएगा।

 

 

 

 

 

 

 


कमेंट करें