नेशनल

पॉर्न वेबसाइट पर चला डंडा, साउथ हिरोइनों की अश्लील फोटो डालने वाला गया जेल

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
133
| अक्टूबर 10 , 2017 , 14:21 IST | बेंगलुरु

साउथ हिरोइनों की फेक फोटो लगाकर सॉफ्ट पॉर्न वेबसाइट्स संचालित करने के आरोप में 24 साल के एक युवा दासारी प्रदीप को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। सीआईडी पुलिस ने उसे रविवार को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया। हैदराबाद में मामला दर्ज होने के कारण उसे वहां ले जाकर स्थानीय कोर्ट में पेश किया गया। प्रदीप को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। बताया जा रहा है कि आरोपी दासारी प्रदीप अतिरिक्त आय के लिए पॉर्न वेबसाइट्स संचालित करता था।

एसपी ने बताया कि प्रदीप अतिरिक्त इनकम के लिए पॉर्न वेबसाइट्स संचालित करने का रास्ता चुना। उसे लग रहा था कि यह पैसा कमाने का आसान जरिया है। प्रदीप शहर के एक पेइंग गेस्ट में रह रहा था और वहीं से इन वेबसाइट्स को संचालित कर रहा था। तेलगू मूवी इंडस्ट्री ने इस तरह की वेबसाइट्स के खिलाफ कड़ा रुख अख्तियार किया है।

एसोसिएशन के अध्यक्ष शिवाजी राजा, पूर्व अध्यक्ष एम मूरली मोहन और वरिष्ठ अभिनेत्री हेमा ने पिछले सप्ताह ही सीआईडी में इसे लेकर मामला दर्ज कराया था। एसोसिएशन ने कुछ यू-ट्यूब चैनल्स के कंटेंट पर भी सवाल उठाए हैं।

हैदराबाद पुलिस के मुताबिक इस तरह के मामले में यह पहली गिरफ्तारी है लेकिन अब मामला संज्ञान में आ गया है और आने वाले दिनों में इस तरह की सॉफ्ट पॉर्न वेबसाइट्स संचालित करने वाले और लोगों की गिरफ्तारी संभव है। वहीं एसपी सीआईडी राममोहन ने बताया कि कि इस तरह की कुछ सॉफ्ट पॉर्न वेबसाइट्स विदेशों से भी संचालित हो रही हैं। हम इंटरपोल नोटिस के जरिए उन पर भी अंकुश की तैयारी में हैं।

क्या है पूरा मामला -

मूवी आर्टिस्ट्स एसोसिएशन ने पिछले हफ्ते करीब 20 पॉर्न वेबसाइट्स के खिलाफ हैदराबाद सीआईडी पुलिस को शिकायत की थी। एसोसिएशन ने अपनी शिकायत में कहा था कि ये सॉफ्ट पॉर्न वेबसाइट्स टॉलीवुड एक्टर्स की फेक फोटो लगाकर संचालित हो रही हैं। तेलंगाना सीआईडी एसपी यू राममोहन ने बताया कि जिन 20 पॉर्न वेबसाइट्स की शिकायत मिली थी, उसमें से 4 वेबसाइट्स प्रदीप संचालित कर रहा था। हमने गूगल की तरफ से इन वेबसाइट्स के लिए मिलने वाली राशि की पड़ताल करते हुए प्रदीप को पकड़ लिया।


कमेंट करें