नेशनल

बड़ा खुलासा: राम रहीम के डेरा ने दंगा फैलाने के लिए 5 करोड़ में रची थी साज़िश!

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
197
| सितंबर 6 , 2017 , 13:44 IST | चंडीगढ़

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम के जेल जाने के बाद बाबा को लेकर रोज़ कोई न कोई नया खुलासा हो रहा है। अब खबर आ रही है कि डेरा सच्चा सौदा के लोगों ने राम रहीम की गिरफ्तारी के बाद पंचकूला में दंगा फैलाने की बड़ी साजिश रची थी। इसके लिए दो लोगों को पांच करोड़ रुपये भी दिए गए थे।

बताया जा रहा है कि डेरा के लोगों ने राम रहीम की गिरफ्तारी के बाद बड़ा दंगा फैलाने का प्लान किया था। इसके लिए डेरा की तरफ से चमकौर सिंह और डॉक्टर नैन को 5 करोड़ दिए गए फिलहाल ये दोनों फरार हैं । पुलिस को जानकारी मिली थी कि पंचकूला हिंसा के लिए डेरा की तरफ से पंजाब में भी करोड़ों रुपये दिए गए थे पुलिस इनकी तलाश में जुट गई है। हालांकि पुलिस सूत्रों का तो यह भी कहना है कि इस पैसे के साथ-साथ वहां पहुंचे समर्थकों से यह भी कहा गया था कि यदि की जान जाती है तो उनके परिजनों को आर्थिक मदद जी जाएगी। मंगलवार को पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट ने हरियाणा सरकार को सिरसा के डेरा मुख्यालय की तलाशी की मंजूरी दे दी है।

कोर्ट के आदेश के बाद से ही डेरा के आसपास पुलिस और सुरक्षाबलों की घेराबंदी बढ़ गई है। डेरा के रास्ते पर आने जाने वालों की जांच की जा रही है, ताकि डेरे की तलाशी से पहले बाबा के गुनाहों के सुराग और सबूत गायब न कर दिए जाएं।

डेरे में फिलहाल न तो गुरमीत राम रहीम सिंह की बेटे बेटियां हैं और न ही पत्नी। वहीं, हनीप्रीत 25 अगस्त के बाद से ही गायब है, लेकिन डेरा मैनेजमेंट कह रहा है कि वो हर तलाशी के लिए तैयार है।

पंचकूला में 23 अगस्त से ही हजारों की संख्या में डेरे के अनुयायी और समर्थक जुटने लगे थे। उनके रहने, खाने पीने और उनके आने-जाने के किराए के लिए डेरे की तरफ से पैसे दिए गए थे। सूत्रों के मुताबिक इसी तर्ज पर पंजाब में भी करोड़ों रुपये भेजे गए थे। ये रकम डेरा सच्चा सौदा सिरसा मुख्यालय की तरफ से भेजी गई थी।

क्या है मामला

साल 2002 के साध्वी यौन शोषण मामले में 25 अगस्त को पंचकूला की सीबीआई अदालत ने राम रहीम को दोषी करार दिया था। फैसले से दो दिन पहले से राम रहीम के समर्थक पंचकूला में जुटने शुरू हो गए थे। फैसले वाले दिन पंचकूला में 50 हजार से ज्यादा समर्थक मौजूद थे। वे शहर के पार्कों-सड़कों में रुके थे। खास बात यह है कि समर्थकों की इतनी बड़ी भीड़ के लिए खाने पीने की पूरी व्यवस्था की गई थी।

कोर्ट का फैसला आते ही पंचकूला में हिंसा फैल गई, पंजाब, यूपी, दिल्ली, हरियाणा और राजस्थान के अलग-अलग शहरों में राम रहीम के समर्थकों ने आगजनी की थी। हिंसा की घटनाओं में 30 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी।


कमेंट करें