नेशनल

लखनऊ: मदरसे में बंधक 51 लड़कियां छुड़ाई गईं, मैनेजर पर यौन शोषण का आरोप

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
444
| जनवरी 1 , 1970 , 05:30 IST | लखनऊ

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के एक मदरसे में कथित रूप से यौन शोषण का मामला सामने आया है। राजधानी में शुक्रवार देर शाम पुल‍िस ने एक मदरसे पर छापेमारी कर उसके संचालक को अरेस्ट क‍िया है। मौके से 51 लड़क‍ियों को मुक्त कराया गया है। आरोप है क‍ि मदरसा संचालक लड़क‍ियों को बंधक बनाकर रखा था। उनसे छेड़छाड़ और अश्लील हरकतें करता था। पैर दबवाता था और व‍िरोध करने पर जानवरों जैसा सलूक करता था। पुल‍िस आरोपी के ख‍िलाफ केस दर्ज पूरे मामले की छानबीन कर रही है।

लखनऊ के एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि इस मामले के मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

एसएसपी दीपक कुमार ने कहा, ''मेरे पास शुक्रवार शाम करीब साढ़े 6 बजे एक फोन आया। फोन करने वाले व्यक्त‍ि ने कहा, हमें आपसे म‍िलना है। इसके बाद उनके साथ 3 से 4 बुजुर्ग आए।''

बुजुर्गों ने बताया, '' साहब, हमारे यहां एक मदरसा है, जहां लड़क‍ियों के साथ बहुत गलत काम हो रहा है। कई सालों से ये सब हो रहा है, लेक‍िन हमलोग कुछ कह नहीं पा रहे थे। आप हमारी मदद कीज‍िए।''

एसएसपी ने कहा, ''इसके बाद इस पर तत्काल कार्रवाई करते हुए हमने एसपी वेस्ट के नेतृत्व में टीम बनाई और सीओ सह‍ित वेस्ट के सभी थाना अध्यक्षों को वहां रेड करने के ल‍िए भेजा। इस दौरान मज‍िस्ट्रेट भी मौजूद रहे।''

''जब हमलोगों ने छोपेमारी की तो वहां 51 लड़क‍ियां मौजूद थीं। पीड़‍ित लड़क‍ियों ने बताया, मदरसे का संचालक मो. तैय्यब जिया अमानवीय प्रवृत‍ि का व्यक्त‍ि है। जो लड़क‍ियां यहां पढ़ती हैं उसके साथ छेड़छाड़ का काम करता है।''

छात्राओं ने चिट्ठी फेंक कर बयां किया दर्द-

एएसपी पश्चिम विकास चन्द्र त्रिपाठी ने बताया कि मौजूदा समय में मदरसे में कुल 125 छात्राएं पढ़ रही थीं। शु्क्रवार दोपहर हॉस्टल में रहने वाली कुछ छात्राओं ने मदरसे की खिड़कियों से चिट्ठी व पर्चे फेंके। इन पर्चों में लिखा था कि.. संचालक ने हम लोगों को बंधक बना रखा है, वह हम लोगों से छेड़छाड़ करता है और विरोध करने पर अमानवीय बर्ताव करता है। पीड़ित छात्राओं ने इन पर्चों में स्थानीय लोगों से गुहार लगाई कि वह उनकी बात पुलिस तक पहुंचाकर उनकी मदद करवाएं। ये पर्चे स्थानीय लोगों के हाथ लगे तो वे सन्न रह गए। मोहल्ले के लोगों ने फौरन इस बात की सूचना मदरसे के मालिक सैय्यद मोहम्मद जिलानी अशरफ को दी।


कमेंट करें