नेशनल

नेक मकसद के लिए अरब सागर में 6 मीटर पानी के भीतर हुई कॉरपोरेट मीटिंग, देखें वीडियो

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
134
| अप्रैल 11 , 2017 , 16:28 IST | तिरुवनंतपुरम

कॉरपोरेट हाउस के एक्जीक्यूटिव्स पानी में डुबकी लगा रहे थे, तैर रहे थे। सभी के हाथों में वाटरप्रूफ प्लेकार्ड थे और पानी के अंदर ही खास डिजाइन किया हुआ कांफ्रेंस टेबल भी लगाया गया था। जी हां अरब सागर में पानी के भीतर 6 मीटर अंदर दुनिया की कई कॉरपोरेट कंपनियों की एक खास मीटिंग आयोजित की गई ।

Water 1

केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम की समुद्री तट पर कॉरपोरेट हाउस की यह स्पेशल मीटिंग वाटर स्पोर्ट्स कंपनी ब्लू ओसियन सफारी ने आयोजित की। एक नेक मकसद के लिए वर्ल्ड ओसियन डे पर समुद्री पर्यावरण की रक्षा के लिए यह मीटिंग समुद्र के अंदर आयोजित की गई। इस मीटिंग में पांच कॉरपोरेट कंपनियों के सीईओ और टॉप एक्जक्यूटिव ने हिस्सा लिया था।

Water 4

UST Global की टॉप एक्जक्यूटिव हेमा मेनन जब मीटिंग खत्म कर समुद्र से बाहर आ रही थीं तो उनके हाथ में ढेर सारे पॉलीथीन के बैग्स और रैपर्स थे जो वो पानी के अंदर से चुनकर बाहर ले आई थीं।

हेमा मेनन ने कहा कि,

हमें सिर्फ धरती की स्वच्छता का ही नहीं समुद्र की स्वच्छता की भी ख्याल रखना चाहिए

मीटिंग में शामिल टीसीएस के वाइज प्रेसिडेंट धीनेश पी थांबी ने कहा कि आप धरती पर स्वच्छ भारत मिशन को लेकर बहस कर रहे हैं, जो स्वच्छता मिशन के लिए जागरूकता फैला रहे हैं वो अगर एक बार समुद्र में तैर आएं तो उन्हें पता लगेगा कि कैसे समुद्री कोरल्स, समुद्री जीव खत्म हो रहे हैं, मर रहे हैं।

Water 2

उन्होंने कहा कि,

स्वच्छ भारत मिशन के साथ-साथ हमें समुद्री प्रदूषण को भी खत्म करने का संकल्प लेना चाहिए

बता दें कि जर्मनी की मैरिन रिसर्च इंस्टीट्यूट Helmholtz Centre For Polar and Marine Research के शोध में भारत के समुद्री तट मुंबई, केरल और अंडमान एंड निकोबार को सबसे प्रदूषित समुद्री तट की श्रेणी में रखा गया है।

देखिए वीडियो


कमेंट करें