नेशनल

आखिर क्यों सेना के जवानों ने पुलिसकर्मियों को पीटा? पढ़ें पूरा मामला

अनुराग गुप्ता, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
178
| जुलाई 22 , 2017 , 17:02 IST | गुंड

जम्मू और कश्मीर के गांदरबल जिले में एक जांच चौकी पर घुसकर कथित तौर पर सेना के जवानों के पीटने से 7 पुलिसकर्मी जख्मी हो गए है। बता दें कि इस बात की जानकारी खुद पुलिस ने दी है। एक अफसर के मुताबिक सेना के जवानों ने पुलिस चौकी में रखे कागजातों को भी नुकसान पहुंचाया है।

पुलिसकर्मी के मुताबिक यह घटना उस वक्त हुई जब सेना के जवानों को ले जा रही प्राइवेट गाड़ियों को सोनमार्ग चेक पोस्ट पर रुकने का सिग्नल दिया गया मगर गाड़ी नहीं रुकी। उन्होंने बताया कि सभी जवान अमरनाथ यात्रा के बालटाल कैम्स से लौट रहे थे और सिविल ड्रेस में थे। सोनमार्ग चेक पोस्ट पर तैनात पुलिसकर्मी ने गुंड में अगली चेक पोस्ट पर मैसेज कर गाड़ियों को रोकने को कहा।

गुंड में मौजूद पुलिसकर्मियों ने गाड़ियों को रोका और उन्हें बताया कि गाड़ियों के चलाए जाने का तय वक्त खत्म हो चुका है। पुलिसकर्मियों ने सेना के जवानों को बोला कि जोखिम के चलते यात्रा की गाड़ियों को आगे ना जाने देने के सख्त निर्देश है। पुलिस द्वारा मिली जानकारी के मुताबिक गाड़ी रोके जाने के बाद सेना के जवानों ने 24 राष्ट्रीय रायफल्स यूनिट से अपने साथियों को बुलाया और पुलिसकर्मियों की पिटाई की।

Majj

उन्होंने आगे बताया कि इसके बाद जवानों ने जबर्दस्ती गुंड पुलिस स्टेशन में घुसकर तोड़फोड़ की और वहां पर रखे कागजातों को नुकसान पहुंचाया। इसके साथ ही ड्यूटी पर तैनात पुलिसवालों को भी पीटा। खबरों के मुताबिक इस घटना में एक एएसआई समेत 7 पुलिसकर्मी जख्मी हुए हैं। जिनको इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

वहीं इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने आरोपी जवानों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। बता दें कि पुलिस ने 24 राष्ट्रीय रायफल्स के जवानों के खिलाफ FIR दर्ज की है। इस घटना की जांच पुलिस और सेना के वरिष्ठ अधिकारी कर रहे है।


कमेंट करें