बिज़नेस

विकास पथ पर बढ़ चला ओडिशा, JSPL ने राष्ट्र को समर्पित किया अंगुल स्टील प्लांट

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
230
| मई 27 , 2017 , 16:42 IST | भुवनेश्वर

मेकिंग इन इंडिया' के प्रति अपने समर्पण एवं संकल्प का लोहा मनवा चुकी जिन्दल स्टील एंड पावर लिमिटेड ने अंगुल में देश का विशालतम 4 एमटीपीए ब्लास्ट फरनेस स्थापित कर एवं 6 एमटीपीए विस्तार क्षमता वाला लोहा-इस्पात कारखाना राष्ट्र को समर्पित कर मील का पत्थर स्थापित किया है।

कंपनी के चेयरमैन नवीन जिंदल ने इस उपलब्धि का श्रेय जेएसपीएल टीम को देते हुए कहा कि,

अब तक 33 हजार करोड़ का निवेश ओडिशा में किया जा चुका है। इस स्टील प्लांट के शुरू होने से जेएसपीएल की जो प्रगति होगी उससे संस्थापक चेयरमैन श्री ओपी जिन्दल एवं ओडिशा के पूर्व मुख्यमंत्री श्री बीजू पटनायक के सपनों के विकसित ओडिशा का निर्माण करने में हम कामयाब होंगे

उन्होंने कहा कि ओडिशा के विकास में ही जेएसपीएल अपना विकास देखती है। इंटीग्रेटेड स्टील कॉम्प्लेक्स राष्ट्र को समर्पित करते हुए ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कहा कि,

जेएसपीएल का यह प्लांट ओडिशा के विकास में निश्चित रूप से सहयोगी साबित होगा

दुनिया का पहला स्वदेशी कोल गैसिफिकेशन प्लांट

जेएसपीएल अंगुल प्लांट में 4 एमटीपीए ब्लास्ट फरनेस के अलावा 2 एमटीपीए का डीआरआई प्लांट भी है जिसमें स्वदेशी कोयला आधारित विश्व के एकमात्र कोल गैसिफिकेशन प्लांट से तैयार सिनगैस का इस्तेमाल ईंधन के रूप में होता है।

जेएसपीएल के अंगुल प्लांट में 1.2 MTPA की प्लेट मिल भी है जिसमें देश की 5 मीटर, सबसे चौड़ी प्लेट का निर्माण होता है।

Jindal 2 (2)

1300 एकड़ में फैली है जेएसपीएल की अंगुल टाउनशिप

यहां 1.5 MTPA क्षमता की देश की सबसे बड़ी बार मिल भी है जहां विश्व के अग्रणी जिंदल पैंथर TMT सरिये का निर्माण होता है। जेएसपीएल की अंगुल टाउनशिप 3500 एकड़ में फैली है, जिसे रोशन कर रहा है परिसर में ही स्थापित 810 मेगावाट का कैप्टिव पावर प्लांट।

Jindal 6

स्टील मैन्युफैक्चरिंग के लिए अंगुल एक आदर्श स्थान है। अंगुल न सिर्फ कोयला और लौह अयस्क खदानों के करीब है बल्कि सड़क, रेल मार्ग और बंदरगाह तीनों से सुव्यवस्थित तरीके से जुड़ा हुआ भी है।

JSPL की टेन्सा स्थित 3.11 MTPA का लौह अयस्क खदान यहां से करीब 200 किलोमीटर की दूरी पर है। इसी तरह 9 MTPA का पेलेट प्लांट निकट ही बड़बिल में स्थित है, जो किसी एक ही स्थान से संचालित देश का सबसे बड़ा पेलेटाइजेशन कॉम्प्लेक्स है।

Jindal 7

ओडिशा के 50 हजार परिवारों का आर्थिक आधार है जेएसपीएल

JSPL सीधे-सीधे 25 हजार लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध करा रही है एवं ओडिशा के 50 हजार से अधिक परिवारों के सामाजिक-आर्थिक विकास का आधार बन गई है। अपने महान संस्थापक श्री ओ पी जिंदल के सिद्धांतों पर चलते हुए JSPL कई CSR प्रोजेक्ट्स चला रही है।

इन परियोजनाओं के माध्यम से कंपनी महिलाओं के सशक्तिकरण, स्वच्छता, कौशल विकास, स्वास्थ्य सेवा एवं प्रौढ़ शिक्षा समेत अनेक क्षेत्रों में अहम भागीदारी निभा रही है।

फाउंडर ओ पी जिंदल ने देखा था अंगुल प्लांट का सपना

अंगुल प्लांट का सपना ग्रुप के फाउंडर चेयरमैन ओ पी जिंदल जी ने देखा था, जो आज साकार हो गया और ये सब JSPL की उत्साही, प्रतिबद्ध और समर्पित टीम के बल पर संभव हो पाया। इस चुनौतीपूर्ण परियोजना को साकार करने में टीम की अगुवाई कर रहे ऊर्जावान चेयरमैन नवीन जिंदल की भूमिका सर्वाधिक अहम रही।

Angul 1


कमेंट करें