नेशनल

सब्जार की मौत के बाद कश्मीर में 50 से ज्यादा जगहों पर हिंसा, 7 इलाकों में कर्फ्यू

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
85
| मई 28 , 2017 , 16:28 IST | श्रीनगर

जम्म्-कश्मीर राज्य प्रशासन ने कश्मीर घाटी में कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने और हिंसक घटनाओं पर रोक लगाने के लिए दो दिनों तक कर्फ्यू लगा दिया। हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर सबजार अहमद भट को आधी रात में त्राल में उसके पैतृक गांव में दफना दिया गया, जिसमें बड़ी संख्या में लोग जुटे।

7 इलाकों में कर्फ्यू

प्रशासन का कहना है कि रविवार को श्रीनगर के सात पुलिस थाना क्षेत्रों नौहट्टा, रेनवाड़ी, खानयार, एम.आर.गंज, सफा कदल, क्रालखड और मैसूमा में कर्फ्यू लगाया गया। शहर में सुबह वाहनों की आवाजाही पर भी रोक लगा दी गई है।

Violence 1

श्रीनगर में किसी भी तरह की हिंसक घटना को रोकने के लिए सुरक्षाबलों की भारी तैनाती की गई है। यहां शनिवार को पत्थरबाजों और सुरक्षाबलों के बीच हिंसक झड़प में एक की मौत हो गई थी जबकि 40 घायल हो गए थे।

Curfew

यासीन मलिक की गिरफ्तारी के बाद माहौल हुआ तनावपूर्ण

जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के अध्यक्ष यासीन मलिक को रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया और उन्हें श्रीनगर की जेल ले जाया गया। मलिक ने शनिवार को त्राल के रुतसाना में सबजार भट के घर का दौरा किया था और उसकी मां से संवेदना जताई थी।

Sabzar

सब्जार भट्ट को किया गया दफ्न

हिजबुल कमांडर सबजार भट को आधी रात के बाद उसके पैतृक गांव रुतसाना में कड़ी सुरक्षा के बीच दफना दिया गया। इस मौके पर विभिन्न इलाकों से बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। त्राल के सैमोह गांव को शनिवार को सुरक्षाबलों द्वारा घेरे जाने के बाद प्रदर्शनकारियों ने इस घेरे को तोड़ने का प्रयास किया, जिसमें एक प्रदर्शनकारी की मौत हो गई। इसी स्थान पर हिजबुल कमांडर सबजार अहमद भट और उसके साथी छिपे हुए थे।

Kash 3

40 से ज्यादा प्रदर्शनकारी घायल

अन्य स्थानों पर हुई झड़पों में 40 लोग घायल हो गए जिसमें 28 प्रदर्शनकारी और 12 सुरक्षाकर्मी हैं। घायल प्रदर्शनकारियों में से आठ को गोलियां लगी हैं जबकि सात को पेलेट गोलियां लगी हैं और इन्हें श्रीनगर के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।
उत्तरी कश्मीर के गांदरबल, बडगाम, बांदीपोरा और कुपवाड़ा में धारा 144 लगाई गई है जबकि दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग, कुलगाम, पुलवामा और शोपियां में भी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

इंटरनेट सेवा बंद, मोबाइल में इनकमिंग-आउटगोइंग कॉल बंद

दक्षिण कश्मीर के विभिन्न स्थानों से बड़ी संख्या में लोग शनिवार को भट और उसके साथी फैजान की अंतिम यात्रा में शरीक हुए। प्रशासन ने शनिवार को मोबाइल फोन पर इंटरनेट सेवा बंद कर दी जबकि प्रीपेड मोबाइल फोन पर आउटगोइंग कॉल भी बंद कर दी गई।

Kash 1

रविवार सुबह सभी मोबाइल फोनों पर इनकमिंग और आउटगोइंग कॉल बंद कर दी गईं। फिलहाल, सिर्फ पोस्टपेड बीएसएनएल मोबाइल फोन ही काम कर रहे हैं।

30 मई को सब्जार की याद में निकलेगा 'मार्च टू त्राल'

बारामूला से बनिहाल के बीच रेल सेवाएं बंद हैं। रविवार को होने वाली सिविल सर्विस परीक्षाएं भी रद्द कर दी गई हैं। कश्मीर घाटी में सोमवार को सभी शैक्षणिक संस्थानों को बंद रखने के आदेश हैं।

अलगाववादियों ने रविवार और सोमवार को बंद का आह्वान किया है और मारे गए हिजबुल कमांडर भट की याद में 30 मई को 'मार्च टू त्राल' का आह्वान किया है।

Kash 2