बिज़नेस

एअर इंडिया की इकोनॉमी क्लास में नहीं मिलेगा नॉन-वेज खाना, ये है वजह

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
103
| जुलाई 10 , 2017 , 17:39 IST | नई दिल्ली

कैश क्रंच से जूझ रही सरकारी विमानन कंपनी एअर इंडिया ने इकोनॉमी क्लास को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है। एअर इंडिया ने डोमेस्टिक उड़ानों की इकोनॉमी क्लास में यात्रियों को नॉन-वेज खाना नहीं परोसने का फैसला किया है।               

दावा है कि इससे हर साल 8 हजार करोड़ रुपए की बचत होगी। एअर इंडिया के अधिकारियों का कहना है कि कॉस्ट कटिंग के मद्देनजर यह फैसला लिया गया है। हालांकि, डोमेस्टिक उड़ानों के बिजनेस और फर्स्ट क्लास यात्रियों को नॉन-वेज खाना पहले की तरह ही दिया जाएगा।

वहीं अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की सभी श्रेणियों में यह सुविधा जारी रहेगी। एअर इंडिया का घाटा काफी बढ़ गया है और केंद्र सरकार अब इसे टुकड़ों में बेचने पर विचार कर रही है। बता दें कि कुछ हफ्ते पूर्व खबर आई थी कि विमानन कंपनी एअर इंडिया अब अपनी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में इकॉनमी श्रेणी के यात्रियों को खाने में सलाद नहीं परोसने के बारे में विचार कर रही है। इसके अलावा लागत घटाने के लिए वह विमान में रखी जाने वाली पत्रिकाओं की संख्या कम करने के बारे में सोच सकती है । यह वह कुछ कदम हो सकते हैं जिनका प्रस्ताव एअर इंडिया के कर्मचारियों ने लागत घटाने के लिए किया है।

एयर इंडिया पर करीब 55,000 करोड़ रुपये का कर्ज है। एअर इंडिया को बेचने की ये प्रक्रिया अगले साल से शुरू हो सकती है। पिछले महीने ही नरेंद्र मोदी कैबिनेट ने एअर इंडिया में विनिवेश को मंजूरी दी थी। आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने पिछले कई सालों में एयर इंडिया के रख-रखाव में अरबों डॉलर खर्च किए हैं।


कमेंट करें