विज्ञान/टेक्नोलॉजी

हो गया ख़ुलासा...ये है देश का सबसे तेज़ 4G नेटवर्क : ओपन सिग्नल रिपोर्ट

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
164
| अप्रैल 21 , 2017 , 18:40 IST | नई दिल्ली

2016 में टेलिकॉम मार्केट में प्रवेश करने वाली रिलायंस जियो की मार्च में औसत 4जी डाउनलोड स्पीड 16.48 मेगाबाइट प्रति सेकेंड (एमबीपीएस) रही है, जबकि जिओ के प्रतिद्वंदी कंपनी आइडिया सेल्युलर और भारती एयरटेल की इसी अवधि की औसत डाउनलोड स्पीड लगभग दोगुनी है।

टेलिकॉम रेग्यूलेटर ट्राई की मासिक रिपोर्ट से पता चलता है कि रिलायंस जियो की औसत डाउनलोड स्पीड 16.48 मेगाबाइट प्रति सेकंड (एमबीपीएस) की थी, जबकि आइडिया सेल्युलर के नेटवर्क पर यह 8.33 एमबीपीएस और भारती एयरटेल के नेटवर्क पर 7.66 एमबीपीएस थी। आम भाषा में बोले तो 16 एमबीपीएस की स्पीड पर यूजर्स एक बॉलीवुड फिल्म को लगभग पांच मिनट में डाउनलोड कर सकते हैं।

4gmobile

गौरतलब है कि, मार्च में वोडाफोन की औसत डाउनलोड स्पीड 5.66 एमबीपीएस, रिलायंस कम्युनिकेशंस की 2.64 एमबीपीएस, टाटा डोकोमो की 2.52 एमबीपीएस, सरकारी टेलिकॉम कंपनी बीएसएनएल की 2.26 एमबीपीएस और एयरसेल की 2.01 एमबीपीएस रही।

ट्राई मासिक आधार पर अपनी माईस्पीड एप्लीकेशन के माध्यम से यह आंकडे जुटाती है। इसी बीच एक निजी कंपनी ओपन सिग्नल ने अपने सर्वेक्षण में दावा किया है कि भारती एयरटेल 11.5 एमबीपीएस की औसत के साथ 4जी डाउनलोड स्पीड सेगमेंट में सबसे तेज 4जी नेटवर्क है जबकि 3.92 एमबीपीएस की औसत स्पीड के साथ रिलायंस जियो चौथे स्थान पर रहा है।

54403801

बता दें, यह आंकडे ओपन सिग्नल ने दो मेट्रो शहर (दिल्ली और मुंबई), दो राज्य (कर्नाटक और तमिलनाडु) से जुटाए हैं। ओपन सिग्नल का कहना है कि उसने दिसंबर 2016 से फरवरी 2017 के बीच 93,464 यूजर्स को कवर करने वाले 1.3 अरब डेटा पॉइंट से इन्फर्मेशन हासिल की है।

Images

ओपन सिग्नल ने कहा,

सर्वे के नतीजों से पता चला है कि एयरटेल ने ओपन सिग्नल का 4जी स्पीड अवॉर्ड जीतने के साथ ही 3जी और कुल रैंकिंग में भी पहला स्थान हासिल किया है।

Airtel

वैसे तो एयरटेल और रिलायंस जियो दोनों देश का सबसे तेज नेटवर्क होने का दावा कर रही हैं। लेकिन हाल ही में रिलायंस जियो ने एयरटेल के उस एड कैम्पेन को चुनौती दी थी जिसमें एयरटेल ने 'आधिकारिक तौर पर' देश का सबसे तेज नेटवर्क होने का दावा किया था।

एडवर्टाइजिंग स्टैंडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया (एएससीआई) ने एयरटेल के इस विज्ञापन को भ्रामक पाया था और कंपनी से 11 अप्रैल तक इसे बदलने या वापस लेने को कहा था। एयरटेल ने एएससीआई के इस निर्देश का पालन किया है। एयरटेल ने इस फैसले की समीक्षा के लिए एएससीआई के पास अपील दाखिल की है।

आपको बता दें, ओपन सिग्नल की रिपोर्ट में बताया गया है कि

वोडाफोन 8.59 एमबीपीएस की औसत 4G डाउनलोड स्पीड के साथ दूसरे स्थान पर था।

04_02_2016-vodafone_4g


कमेंट करें