राजनीति

ओवैसी के बिगड़े बोल, कहा- संसद में मुसलमानों की बर्बादी के लिए बनता है कानून

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
117
| जुलाई 3 , 2017 , 19:50 IST | हैदराबाद

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (AIMIM) विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी ने संसद और प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ विवादास्पाद बयान दिया है। विवादास्पद बयान देने के लिए मशहूर ओवैसी जूनियर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए भी अपने बयान में तीखे शब्दों का इस्तेमाल किया है।

अकबरूद्दीन ओवैसी का का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह मुस्लिमों को धर्म के आधार पर वोट देने की अपील करते नजर आए हैं। साथ ही बेहद बाजारू भाषा में पीएम को संबोधित कर रहे हैं।

अकबरुद्दीन ओवैसी ने कहा कि आज मुल्क के सेकुलर लोग कहां हैं। अखलाक को मारा गया, नोमान को मारा गया, जुनैद को मारा गया। क्या टोपी पहनना गुनाह है? मुसलमान होना गुनाह है क्या? ओ विश्व हिंदू परिषद वालो, आरएसएस वालो, नरेंद्र मोदी सुन लो ये मुल्क किसी एक का नहीं। ये जितना तेरा है, मुल्क मेरा भी है. अगर हिंदू तिलक लगाकर घूम सकता है तो मुसलमान भी टोपी पहन सकता है।

अकबरुद्दीन ओवैसी यहीं नहीं रुके। उन्होंने संसद पर मुसलमानों के खिलाफ काम करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि मुसलमानों की बर्बादी के कानून किसी चौक-चौराहे पर नहीं बल्कि संसद, विधानसभा जैसे सदनों में बनते हैं।

अकबरुद्दीन के बयान पर विवाद भी पैदा हो गया है। बीजेपी ने उनके बयान की निंदा की है। पार्टी नेता नलिन कोहली ने कहा कि भारत एक सेकुलर देश है। ये हर धर्म के लोगों का देश है लेकिन अकबरुद्दीन मुसलमानों को भड़काने का काम कर रहे हैं।

सुनिए क्या कहा ओवैसी ने (साभार-TNA News)


कमेंट करें