खेल

अंबाती रायडू पर लगा दो मैच का प्रतिबंध, आचार संहिता के उल्लंघन का है आरोप

आशुतोष कुमार राय, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
186
| जनवरी 31 , 2018 , 16:15 IST

हैदराबाद के कप्तान औऱ टीम इंडिया के वन-डे खिलाड़ी अंबाती रायडू के उपर आचार संहिता का उल्लंघन का करने पर दो मैचों के लिए निलंबित किया गया है। बता दें रायडू पर 11 जनवरी को सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में खेले गए मैच के दौरान उनके बर्ताव के लिए लगाया गया है।

बीसीसीआई ने बताया है कि, ‘‘रायडू आगामी विजय हजारे ट्राफी में हैदराबाद के पहले दो मैचों में भाग नहीं ले पाएंगे।’’

मैच के दौरान हैदराबाद के डीप मिडविकेट पर खड़े क्षेत्ररक्षक मेहदी हसन का पांव गेंद रोकते समय सीमा रेखा को स्पर्श कर गया था लेकिन मैदानी अंपायर ने तीसरे अंपायर की मदद नहीं ली और करूण नायर को चौका देने के बजाय दो रन दिये। कर्नाटक ने पांच विकेट पर 203 रन बनाये।

स्थिति तब बिगड़ी जब कर्नाटक के स्कोर में दो रन जोड़े गये और आखिर में हैदराबाद इसी अंतर से मैच हार गया था। हैदराबाद ने 20 ओवर में नौ विकेट पर 203 रन बनाये थे। रायुडु ने मैच के बाद अंपायरों के सामने यह मसला उठाया जिससे दूसरे मैच के शुरू होने में देरी हुई।

205 रन का पीछा करने उतरी हैदराबाद की टीम ने निर्धारित 20 ओवर में 203 रन बना दिए। लेकिन मैच खत्म होने के बाद हैदराबाद के कप्तान अंबाती रायडू अपनी टीम के साथ मैदान पर आए और सुपर ओवर करवाने की मांग करने लगे।

इसे भी पढ़ें-: अंडर 19 वर्ल्‍ड कप में भारत की जीत, पाकिस्तान 69 पर अॉल आउट

रायडू का कहना था कि, मुझे भी नियमों के बारे में पता है, अगर अंपायर किसी को आउट देते हैं और वो मैदान के बाहर चला जाता है और उसके बाहर जाने के बाद पता चलता है कि बल्लेबाज़ को गलत आउट दिया गया है, तो क्या उसे वापस बल्लेबाज़ी के लिए बुलाया जाता है?

इसके साथ ही रायडू का कहना था कि अगर कोई अंपायर किसी गेंद को नो-बॉल न दे और बाद में पता चले कि वो गेंद नो बॉल थी, तो क्या उसका रन बाद में स्कोर में जोड़ा जाता है? अंपायर अपना फैसला दे चुके थे और वो कर्नाटक को विजेता घोषित कर चुके थे।


कमेंट करें