इंटरनेशनल

नॉर्थ कोरिया से अमेरिका-जापान बेहद नाराज़, समंदर में बमवर्षक विमान किये तैनात

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
306
| जनवरी 1 , 1970 , 05:30 IST | नयी दिल्ली

जापान के रक्षा मंत्रालय ने घोषणा की है कि उत्तर कोरिया द्वारा नवीनतम अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षण के जवाब में अमेरिका ने रविवार को कोरियाई प्रायद्वीप के पास बी-1बी लड़ाकू विमान तैनात कर दिए हैं। रक्षा मंत्री फुमियो किशिदा ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि इस तैनाती में जापान के मित्सुबिशी एफ-2 लड़ाकू विमानों के साथ दो अमेरिकी बमवर्षक शामिल हैं।

समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, ग्वाम के एंडर्सन वायुसेना अड्डे पर मौजूद इन विमानों को अमेरिका ने पहली बार तैनात नहीं किया है। यह कदम उत्तर कोरिया द्वारा उकसावे वाली कार्रवाई के जवाब में अपनी सैन्य शक्ति के प्रदर्शन को लेकर उठाया गया है।

D4288d39179e411785c8dbedb71b6428_18

अमेरिका ने किम जोंग-उन की सरकार द्वारा चार जुलाई को पहले आईसीबीएम परीक्षण के बाद और मई में छोटी दूरी की मिसाइल दागे जाने के बाद भी कोरियाई प्रायद्वीप में बी-1बी बमवर्षक तैनात किए थे। वाशिंगटन ने अमेरिकी विद्यार्थी ओट्टो वार्मबीयर के निधन की घोषणा के बाद भी 20 जून को बमवर्षक तैनात किए थे।

इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शनिवार को कहा कि वाशिंगटन यह नहीं चाहेगा कि उत्तर कोरिया का मुद्दा सुलझाने में चीन इस तरह हाथ पर हाथ धरे बैठा रहे। ट्रंप ने ट्वीट किया,

मैं चीन से बहुत निराश हूं। हमारे बेवकूफ भूतपूर्व नेताओं ने उन्हें व्यापार में सालाना अरबों डॉलर बनाने की अनुमति दी थी। जबकि उन्होंने केवल वार्ता के अलावा उत्तर कोरिया के संबंध में हमारे लिए कुछ भी नहीं किया। हम इसे लंबे समय तक जारी नहीं रखने वाले हैं। चीन आसानी से इस समस्या को हल कर सकता था।

Us-warships-korea-ap-img

उत्तर कोरिया के शुक्रवार के प्रक्षेपण के बाद ट्रंप ने कहा कि वह अमेरिका और इस क्षेत्र में उसके सहयोगियों की रक्षा के लिए आवश्यक सभी कदम उठाएंगे।


कमेंट करें