इंटरनेशनल

सऊदी अरब को 15 अरब डॉलर की थाड मिसाइल प्रणाली बेचेगा अमेरिका, जाने क्या है ख़ासियत

कुलदीप सिंह, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
187
| अक्टूबर 7 , 2017 , 11:51 IST | रियाद

अमेरिकी विदेश विभाग ने सऊदी अरब को संभावित 15 अरब डॉलर की टर्मिनल हाई ऑल्टिट्यूड एरिया डिफेंस (थाड) मिसाइलें बेचने की शुक्रवार को मंजूरी दे दी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने जारी बयान के हवाले से बताया कि सऊदी अरब ने 44 थाड लॉन्चर, 360 मिसाइलें, 16 अग्नि नियंत्रण स्टेशन और 7 राडार खरीदने का आग्रह किया था।



अमेरिकी विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने पहचान उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि मिसाइलों की यह बिक्री अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के मई में सऊदी अरब के दौरे के दौरान ऐलान किए गए 110 अरब डॉलर के पैकेज का हिस्सा है। इस पैकेज के तहत अमेरिका, सऊदी अरब को रक्षा उपकरण और सेवाएं बेचेगा। 

बयान के मुताबिक,

इस संभावित बिक्री से सऊदी अरब को क्षेत्र में बढ़ रहे बैलिस्टिक मिसाइल के खतरे से स्वयं की रक्षा में मदद मिल सकेगी।

कांग्रेस को इस संभावित बिक्री के बारे में अधिसूचित कर दिया गया है और इस सौदे की समीक्षा के लिए 30 दिनों का समय है।

क्या है थाड?

थाड मिसाइल प्रणालियों की तैनाती बैलिस्टिक मिसाइल हमलों से बचाव के लिए की जाती है।

इस सिस्टम के जरिए आस-पास के 200 मीटर के दायरें में उडने वाली किसी भी मिसाइल को उडते ही गिराने में ये तकनीक सक्षम है.

इस तकनीक के जरिए लगभग 200 किलोमीटर की दूरी तक और 150 किलोमीटर की ऊंचाई तक किसी भी टारगेट को पलक झपकते ही खत्म किया जा सकता है.

इस तकनीक में मौजूद बेहद मजबूत रडार सिस्टम आस-पास का मिसाइल को उसकी लांचिग स्टेज में ही पकड लेता है और उस टारगेट का शुरूआत में ही खत्म कर देता है.

इस थाड तकनीक से एक बार में अगर-अगर आठ एंटी मिसाइल दागी जा सकती है.


कमेंट करें