राजनीति

अमित शाह का बड़ा बयान, कांग्रेस को नहीं पिछड़ों का ख्याल, लटकाया OBC बिल

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
151
| अगस्त 3 , 2017 , 18:29 IST | रोहतक

हरियाणा के दौरे पर गए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि पिछड़ा आयोग को संवैधानिक दर्जा न दिलाकर कांग्रेस की पिछड़ा विरोधी मानसिकता सामने आ गई है। इसके साथ ही अमित शाह ने मोदी सरकार की उपलब्धियां भी गिनाईं। अमित शाह ने कहा कहा कि मोदी सरकार ने इतने काम किए हैं कि 2019 में वापसी निश्चित है।

ओबीसी आयोग के लिए बीजेपी कर रही प्रयास

पिछड़ा वर्ग आयोग को लेकर कांग्रेस पर हमला बोलते हुए अमित शाह ने कहा कि देश के पिछड़े वर्ग के लिए 1955 से मांग थी कि ओबीसी कमीशन को संवैधानिक मान्यता दी जाए। देश के पिछड़े वर्ग के दायरे में आने वाले करोड़ों लोगों को आस थी कि संवैधानिक दर्जा मिलने से उनका सम्मान बढ़ेगा। आज तक किसी सरकार ने इसके लिए कोई काम नहीं किया। बीजेपी की सरकार आने के बाद इसे लेकर एक प्रयास किया गया।

शाह का आरोप- कांग्रेस ओबीसी आयोग में लगा रही अडंगा

अमित शाह ने आगे कहा कि इसके लिए एक बीजेपी सरकार एक संविधान संसोधन और एक बिल लेकर आई है। लोकसभा से हमारा बिल पास भी हो गया लेकिन कांग्रेस राज्यसभा में ऐसा संशोधन लेकर आई जिससे पूरा बिल कानूनी पचड़े में पड़ जाएगा। जिसके कारण इस बिल को कोई स्वीकार नहीं कर सकता।

As 2

शाह ने कहा कि बीजेपी ने इसे लेकर अपनी बात रखी लेकिन इसके बावजूद कांग्रेस ने अपने संशोधन को बनाए रखा और बिल को गिरा दिया। इसका नतीजा ये हुआ कि 1955 से लेकर आजतक देश का पिछड़ा वर्ग का नागरिक जिस सम्मान के लिए तरस रहा था उस सम्मान से उसे अब कुछ समय के लिए और महरूम रहना होगा।

कांग्रेस ने जानबूझ कर पिछड़ा वर्ग आयोग बिल गिरा दिया

बता दें कि पिछड़ा आयोग के बिल को कांग्रेस का कहना था कि आयोग में एक महिला और एक अल्पसंख्यक को भी शामिल किया जाए। मूल विधेयक में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष सहित तीन सदस्यीय आयोग का प्रस्ताव किया गया है। इसी संशोधन के साथ ये बिल राज्यसभा से पास हुआ। लेकिन सरकार को यह संशोधन स्वीकार नहीं है इसलिए इस बिल को एक बार फिर राज्यसभा भेजा गया है।

 


कमेंट करें