खेल

चैम्पियंस ट्रॉफी के बाद भी जारी रहेगा कुंबले का कार्यकाल, वेस्टइंडीज दौरे तक रहेंगे कोच

आईएएनएस | 1
137
| जून 13 , 2017 , 12:20 IST | नई दिल्ली

सर्वोच्च अदालत द्वारा बीसीसीआई का कामकाज देखने के लिए गठित प्रशासकों की समिति (सीओए) के अध्यक्ष विनोद राय ने सोमवार को कहा कि अनिल कुंबले वेस्टइंडीज दौरे तक भारतीय टीम के मुख्य कोच बने रहेंगे। राय ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा, "कोच का चुनाव क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) के जिम्मे है। इसी ने अनिल कुंबले को पिछले साल एक साल के लिए चुना था। अब प्रक्रिया का पालन किया जाना है। चूंकि प्रक्रिया में देरी हो रही है इसलिए कुंबले विंडीज दौरे तक टीम के कोच रहेंगे।"


उन्होंने कहा, "लंदन में सीएसी की बैठक भविष्य को लकेर फैसला करेगी।" कुंबले का भारतीय क्रिकेट बोर्ड के साथ एक साल का करार चैम्पियंस ट्रॉफी के बाद खत्म हो रहा है। इसके बाद भारत को विंडीज दौरे पर पांच एकदिवसीय और एक टी-20 मैच खेलेगा। यह दौरा 23 जून से 9 जुलाई तक चलेगा।

हाल ही में टीम के कप्तान विराट कोहली और कुंबले के बीच मतभेदों की खबरों के बाद कुंबले को दोबारा कोच बनाए रखने पर संशय था। कुंबले की अपने और खिलाड़ियों के वेतन में बढ़ोत्तरी की मांग को लेकर भी बीसीसीआई के उनसे नाराज होने की खबरें थीं। राय ने हालांकि कुंबले और कोहली के बीच के मतभेदों की खबरों को खारिज कर दिया है।

उन्होंने कहा, "सच्चाई यह है कि उनका कार्यकाल का था इसलिए प्रक्रिया का पालन किया जाना था। मैं नहीं जानता इसमें क्या विवाद है। मैंने दोनों से बात की है और दोनों ने बाहर आई खबरों से इनकार किया है।" उन्होंने कहा, "इस स्थिति को और बेहतर कैसे सुलझाया जा सकता है? सच्चाई यह है कि उनका करार एक साल का ही था। इसमें विवाद की क्या बात ?"

सीएसी के सदस्य सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्मण और सौरव गांगुली इस समय लंदन में हैं और इन तीनों की मुलाकात कोहली और कुंबले से होनी है। राय ने कहा, "हमने इसका फैसला सीएसी पर छोड़ दिया है। वह दिग्गज खिलाड़ी हैं। वह जानते हैं कि भारतीय क्रिकेट के लिए क्या सही है। सीएसी लंदन में बैठक करेगी और भविष्य को लेकर फैसला करेगी।"

हाल ही में सीओए के एक सदस्य रामचंद्र गुहा ने समिति से इस्तीफा दिया था। अपने इस्तीफे में गुहा ने कई मुद्दों को उजागार किया था, जिसमें हितों के टकराव का मुद्दा भी शामिल था। उन्होंने अपने इस्तीफे में अंडर-19 और इंडिया-ए के कोच तथा इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की टीम दिल्ली डेयरडेविल्स के मेंटॉर राहुल द्रविड़ को हितों के टकराव का मुद्दा बताया था।

राय ने इस पर कहा, "हितों के टकरावों के सभी मुद्दे बीसीसीआई के ऐथिक्स अधिकारी के पास भेजे जाएंगे। उनकी नियुक्ति जल्दी की जाएगी। हमें हितो के टकराव की कई शिकायतें मिली हैं।"
उन्होंने कहा, "गुहा के इस्तीफे पर सर्वोच्च अदालत में चर्चा की जाएगी। चूंकि हमें अदालत ने नियुक्त किया है इसलिए हमें उसे जवाब देना होगा।"


कमेंट करें