नेशनल

राजघाट पर अन्ना हजारे का एक दिन का सत्याग्रह, मोदी को लिखा नाराजगी भरा पत्र

अर्चित गुप्ता | 0
60
| अक्टूबर 2 , 2017 , 15:08 IST | नई दिल्ली

गांधी जयंती के मौके पर सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे एक दिन के लिए सत्याग्रह करने देश की राजधानी दिल्ली पहुंचे। अन्ना हजारे ने महात्मा गाँधी की समाधि राजघाट पर पहुँचकर सत्याग्रह किया। इससे पहले अन्ना हजारे ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की समाधि पर पहुँच कर उनको श्रद्धांजलि अर्पित की। अन्ना हजारे ने कहा कि मैं राजघाट पर गांधी जी को नमन करने आया हूं। आज व्यथित होने का एक कारण है। अन्ना ने कहा कि दुखी नहीं हू, दुखी स्वार्थी लोग होते हैं।

दरअसल अन्ना हजारे ने रविवार को कहा था कि देश महात्मा गांधी के सपने के रास्ते से भटक गया है। इसीलिए वह गांधी जयंती के मौके पर एक दिन का सत्याग्रह करेंगे। अन्ना हजारे के मुताबिक मोदी सरकार से लोगों को जो उम्मीदें थी उसमें कुछ खास अबतक हासिल नहीं हुआ है। अन्ना के मुताबिक बढ़ते हुए भ्रष्टाचार के अलावा लोकपाल और लोकायुक्त कानून पर अमल ना होने के कारण वो व्यथित होकर सत्याग्रह करने के लिए बापू की समाधि पर पहुंचे हैं।

अन्ना के मुताबिक मोदी सरकार के लगभग 3 साल पूरे होने जा रहे हैं लेकिन ना लोकपाल-लोकायुक्त नियुक्त किया गया हैं। ना नागरिक संहिता पर अमल हुआ हैं। ना विदेश का काला धन वापस आया हैं। ना नोटबंदी से देश में छुपाये कालेधन का जनता को हिसाब मिला हैं। ना ही किसानों की आत्महत्या रूकी हैं बल्कि बढ़ती जा रही है। स्वामी नाथन कमेटी रिपोर्ट पर कुछ कर नहीं रहे हैं। ना किसानों को उनके उपज को पैदावारी के आधार पर दाम मिला हैं।


कमेंट करें

अभी अभी