राजनीति

दिल्ली में केजरीवाल के धरने का आज चौथा दिन, पीएम को लिखी चिट्ठी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1370
| जून 14 , 2018 , 13:04 IST

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पिछले चार दिनों से अपने साथियों के साथ धरने पर हैं। ये धरना उप राज्यपाल के खिलाफ दिया जा रहा है। अभी दिल्ली की राजनीति भी अब गर्माती दिखाई दे रही है। जहां केजरीवाल राज्यपाल के खिलाफ उनके निवास पर धरना दे रहे हैं तो वहीं विपक्षी पार्टी बीजेपी सीएम के खिलाफ उनके घर पर धरना दे रही है। केजरीवाल के धरने का आज चौथा दिन है।
अनशन पर बैठे केजरीवाल के साथ मनीष सिसौदिया और सत्येन्द्र जैन भी बैठे हैं। आज सुबह के रुटिन चेकअप में पता चला है कि सत्येंद्र जैन की तबियत ठीक नहीं है।

जानें तबियत के बारे में-:

सत्येंद्र जैन -:

पल्स - 64, बीपी - 110/70, सुगर - 47, यूरिन किटोन - 2+

मनीष सिसोदिया -:

पल्स - 72, बीपी - 140/80, सुगर - 59, वजन - 88.5 Kg

जारी है पक्ष-विपक्ष की रस्सा कसी-:

केजरीवाल के धरने के विरोध में बीजेपी के नेता बुधवार को मुख्यमंत्री आवास में धरने पर बैठे। दिल्ली बीजेपी नेता मनजिंदर सिरसा ने फोटो ट्वीट करते हुए लिखा कि केजरीवाल को नौटंकी बंद करनी चाहिए और काम पर वापस आना चाहिए। इस धरने में आप के बागी नेता कपिल मिश्रा भी शामिल रहे।

केजरीवाल का Good Morning ट्वीट-:

ट्वीट में अरविंद केजरीवाल ने लिखा, "गुड मॉर्निंग, आख़िर दिल्ली वाले क्या मांग रहे हैं। IAS अफ़सरों की हड़ताल ख़त्म करो। राशन की डोरस्टेप डिलिवरी लागू करो। नहीं होना चाहिए ये? दुनिया में कोई कह सकता है कि ये नहीं होना चाहिए? फिर ये लोग क्यों नहीं कर रहे? आज चौथा दिन है। इनकी मंशा ठीक नहीं लग रही।"

कपिल मिश्रा का पलटवार-:

अरविंद केजरीवाल के ट्वीट पर पलटवार करते हुए कपिल मिश्रा ने लिखा कि सबसे पहले आप अपने कपड़े बदल लो, नहीं तो इन्फेक्शन हो जाएगा। ये मत कहना है कि मोदी जी कपड़े नहीं बदलने दे रहे, दिल्ली में कोई हड़ताल नहीं है। आप आज झूठ बोलोगे और कल माफी मांग लोगे।

केजरीवाल ने पीएम मोदी से कहा है कि उपराज्यपाल हमारी बात नहीं सुन रहे हैं, मैं आपसे अपील करता हूं कि आप इस मामले में दखल दें। और पिछले तीन महीने से जो IAS अफसरों की हड़ताल जारी है उसे खत्म कराएं।

केजरीवाल की पीएम को चिट्ठी-:

केजरीवाल ने लिखा है कि इन अफसरों का ट्रांसफर करना या इनपर कार्रवाई करना सब केंद्र सरकार और एलजी के हाथ में है। इसलिए हम कुछ नहीं कर पा रहे हैं। अब तो लोगों ने भी कहना शुरू कर दिया है कि ये हड़ताल केंद्र सरकार और एलजी मिलकर करवा रहे हैं।

.jpg
Fa5d_ff2265833826373688171_061418104126


कमेंट करें