नेशनल

पहली बार योगी ने की अयोध्या में पूजा, कहा- रायशुमारी से ही सुलझेगा विवाद

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
150
| जुलाई 26 , 2017 , 16:12 IST | अयोध्या

अयोध्या पहुंचे योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या विवाद पर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा बातचीत से ही इस मामले का समाधान किया जाना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट की सलाह दोनों पक्षों को माननी चाहिए। सीएम बनने के बाद आज अयोध्या में उनका दूसरा दौरा है। वे यहां दिवंगत महंत राम चन्द्र परमहंस की 14वीं पुण्यतिथि पर अयोध्या आए हैं।

योगी ने कहा- राम और बुद्ध हमारी पहचान हैं

सबसे पहले उन्होंने सरयू तट पर उनकी समाधि पर पहुंचकर श्रद्धांजलि दी उसके बाद जनसभा को संबोधित किया। राम मंदिर के निर्माण के सवाल पर उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि केंद्र और राज्य की सरकारें आपकी भावनाओं के अनुरूप काम करेंगी। योगी ने कहा, “मैं बार-बार अयोध्या आता रहा हूं और आता रहूंगा। इसमें किसी को आपत्ति नहीं होनी चाहिए। राम और बुद्ध हमारी पहचान हैं।

योगी ने कहा कि अयोध्या जैसे स्थल ही भारतीय इतिहास के असली केंद्र बिंदु हैं. चक्रवर्ती सम्राटों की परंपरा यहीं से शुरू होती है। इसके साथ ही योगी ने ये भी कहा कि कुछ लोग रामलीला से भयभीत हैं। उन्होंने कहा, “हमने अयोध्या में बंद रामलीला शुरू की है।

कल्याण सिंह के बाद योगी ने ही की अयोध्या में पूजा-अचर्ना

गौरतलब है कि योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री बनने के बाद 31 मई को पहली बार अयोध्या आए थे और पूजा अर्चना की थी। पिछले 26 साल में अयोध्या जाकर पूजा अर्चना करने वाले योगी आदित्यनाथ पहले मुख्यमंत्री हैं। इससे पहले साल 1991 में तत्कालीन मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ने अयोध्या जाकर पूजा अर्चना की थी।

योगी के कार्यक्रम में संतों को प्रशासन ने नहीं आने दिया

बता दें कि सीएम योगी की कार्यक्रम से पहले परमहंस की समाधि स्थल को खाली कराया गया, वहां किसी भी संतों को आने की अनुमति नहीं दी गई। समाधि स्थल पर साधू संत सीएम योगी का स्वागत नहीं कर पाए। प्रशासन की इस कार्यवाही से संत समाज नाराज़ नजर आ रहा हैं। राम जन्मभूमि न्यास सदस्त महंत राम विलास वेदांती को भी हटाया गया। राम जन्मभूमि के मुख्य पुजारी आचार्य सतेंद्र दास को भी हटाया गया।

इससे पहले उन्होंने कारगिल दिवस पर कारगिल शहीदों को श्रद्धांजलि दी और उनके परिवार को सम्मानित किया। इस कार्यक्रम में राज्यपाल राम नाईक भी मौजूद रहे। श्रद्धांजलि सभा के बाद योगी दिगम्बर अखाड़े में आयोजित भंडारे के कार्यक्रम में शामिल हुए.

 


कमेंट करें