नेशनल

भोपाल गैंगरेप केस: पीड़िता बोली, दोषियों को बीच चौराहे पर फांसी देनी चाहिए

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
80
| नवंबर 5 , 2017 , 11:38 IST | भोपाल

भोपाल में हुई गैंगरेप की वारदात ने पूरे देश को झगझोर के रख दिया है। बता दें कि घटना के बाद पहली बार पीड़ित सामने आई है। पीड़िता ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, ऐसे लोगों (आरोपियों) को जिंदा नहीं छोड़ना चाहिए। उन्हें बीच चौराहे पर फांसी दे देनी चाहिए।

इसके साथ ही पीड़िता ने पुलिस द्वारा की गई लापरवाही पर भी निराशा जताई। पीड़िता ने कहा कि, पुलिस का व्यवहार बहुत खराब था। हम एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन तक लगातार भटक रहे थे। हबीबगंज स्टेशन के एक पुलिस अधिकारी के अलावा कोई सहयोग नहीं कर रहा था।

इसे भी पढ़ें: CM की सख्ती के बाद तीन थानों के इन्चार्ज सस्पेंड, दो CSP हटाए गए

बता दें कि 31 अक्टूबर की शाम भोपाल आरपीएफ में पदस्थ एएसआई की बेटी के साथ 4 आरोपियों ने गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। दरअसल, पीड़िता भोपाल के नजदीकी एक शहर से भोपाल में कोचिंग करने आती थी। कोचिंग के बाद जब वह ट्रेन पकड़ने के लिए जा रही थी, उस दौरान रास्ते में एक आरोपी ने लड़की के साथ छेड़छाड़ की।

इस छेड़छाड़ का जब पीड़िता ने विरोध किया तो आरोपी ने लड़की के साथ मारपीट शुरू कर दी। इसके बाद पीड़िता को पुल के नीचे ले गया और पर उसका गैंगरेप किया।


कमेंट करें