राजनीति

क्या बिहार में गठबंधन के दिन हुए पूरे? नीतीश ने लालू को दिया 4 दिन का अल्टीमेटम

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
136
| जुलाई 11 , 2017 , 19:38 IST | पटना

बिहार में महागठबंधन सरकार के बुरे दिन अब नजदीक आ गए हैं। जदयू की विधायक दल की बैठक के बाद नीतीश कुमार ने स्पष्ट कर दिया है कि वो भ्रष्टाचार को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेंगे। नीतीश ने तेजस्वी के इस्तीफे के मामले में आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद को चार दिन का अल्टीमेटम दिया है। जेडीयू नेता रमई राम ने मीडिया से कहा है कि हम चार दिन और इंतजार करेंगे उसके बाद पार्टी अध्यक्ष नीतीश कुमार फैसला लेंगे। 

नीतीश कुमार के इस फैसले से ये बात साफ हो गई है कि तेजस्वी यादव के खिलाफ लगे भ्रष्टाचार के आरोपों को उन्होंने गंभीरता से लिया है। मतलब साफ है कि वो किसी कीमत पर तेजस्वी को डिप्टी सीएम के रूप में नहीं देखना चाहतेष जेडीयू के विधायकों के साथ मीटिंग के बाद नीतीश ने लालू प्रसाद को साफ संकेत दे दिए कि वो तेजस्वी का इस्तीफा खुद ही ले लें।

आरजेडी ने किया था तेजस्वी के इस्तीफे से इनकार

एक तरफ नीतीश चाह रहे हैं कि लालू यादव खुद अपने बेटे को डिप्टी सीएम पद से हटाएं। वहीं दूसरी तरफ लालू प्रसाद ने आरजेडी की बैठक के ये बाद ये खुला ऐलान कर दिया है कि तेजस्वी यादव के इस्तीफे का सवाल ही पैदा नहीं होता।

Ln

एक बार फिर से आमने-सामने नीतीश-लालू

तेजस्वी यादव पर उनकी अपनी पार्टी आरजेडी और गठबंधन पार्टी जेडीयू के स्टैंड को देखा जाए तो दोनों के बीच तलवार खिंची नजर आती है। हालांकि, ये बात भी सामने आई थी कि सोमवार को आरजेडी की मीटिंग से पहले नीतीश कुमार ने लालू यादव से फोन पर बातचीत की थी। बताया जा रहा था कि दोनों के बीच महागठबंधन को बचाने और बिहार के सियासी भूचाल को रोकने पर मंत्रणा हुई थी। मगर दो दिनों में दोनों पार्टियों की मीटिंग से जो रुख सामने आया है, उससे तो यही जाहिर होता है कि बिहार की राजनीति में कोई बड़ा तूफान आने वाला है।

 


कमेंट करें

अभी अभी