अभी-अभी

'टॉक टू AK' की फांस में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, CBI ने की पूछताछ

अमितेष युवराज सिंह, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
89
| जून 16 , 2017 , 15:34 IST | दिल्ली

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर शुक्रवार को सीबीआई की टीम पहुंची। सीबीआई उनके घर 'टॉक टू AK' मामले की छानबीन के लिए गई थी। सीबीआई ने 'टॉक टू AK' प्रोग्राम में लगे आरोपों की प्राथमिक जांच के सिलसिले में मनीष सिसोदिया का बयान दर्ज किया। सिसोदिया पर 'टॉक टू AK' कार्यक्रम में वित्तीय अनियमितताओं का आरोप है। सीबीआई ने साफ किया है कि यह छापा नहीं बल्कि वह इस मामले पर सिसोदिया का बयान चाहते हैं। सीबीआई की टीम में 6 लोग थे। 

आपको बता दें कि आम आदमी पार्टी ने अपने ट्विटर हैंडल पर इसे सीबीआई द्वारा की गई रेड कहा है। आप ने ट्वीट कर लिखा, 

मनीष सिसोदिया पर सीबीआई के छापे पड़ रहे हैं क्योंकि वो दिन-रात सरकारी स्कूलों को प्राइवेट स्कूलों से बेहतर बनाने में लगे हैं। 

आरोप है कि 'टॉक टू AK' कैंपेन में नियमों के उलट एक कंपनी को ठेका दिया गया था। सीबीआई ने इस मामले में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और अन्य के खिलाफ प्राथमिक जांच (PE) रजिस्टर की थी। टॉक टू Ak जुलाई 2016 में आयोजित किया गया था। यह कार्यक्रम पीएम मोदी के 'मन की बात' की तर्ज पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की 'जन की बात' था। इसमें दिल्ली के आम लोगों के सवालों के जवाब दिये गए थे। 

Arvind-kejriwal_650x400_61468737736

आरोप यह है कि नियमों को ताक पर रखकर एक कंपनी को प्रचार का ठेका दिया गया। दिल्ली सरकार के प्रचार विभाग के प्रमुख मनीष सिसोदिया हैं। दिल्ली के वित्त मंत्री भी वही हैं, सो इस कार्यक्रम को करवाने की जिम्मेदारी उन्हीं पर थी। इस कार्यक्रम पर करीब डेढ़ करोड़ रुपये का खर्च आया था। इसी सिलसिले में सीबीआई उनका बयान दर्ज करने पहुंची।


कमेंट करें