मनोरंजन

जिम्मेदारी से काम करुंगा, निहलानी पर कोई कमेंट नहीं: प्रसून जोशी

icon कुलदीप सिंह | 0
234
| अगस्त 12 , 2017 , 17:15 IST

सेंसर बोर्ड के चेयरमैन पहलाज निहलानी को केंद्र सरकार ने पद से हटा दिया है। उनकी जगह गीतकार प्रसून जोशी को बोर्ड का नया चेयरमैन बनाया गया है। सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन की कमान संभालते हुए प्रसून ने कहा की वह किसी पर भी कोई कमेंट नही करना चाहते हैं और अपना काम ईमानदारी से करेंगे।

प्रसून ने न्यूज एजेंसी एएनआई से कहा, 'मैं पहलाज निहलानी पर कोई कमेंट नहीं करना चाहता। मैं चाहता हूं कि अपनी जिम्मेदारी पूरी ईमानदारी और दक्षता के साथ निभाऊं।'

प्रसून ने आगे कहा, 'क्रिएटिविटी की अपनी दुनिया होती है। अगर दर्शकों को फिल्मों की क्रिएटिविटी से जुड़ाव महसूस नहीं हो रहा है तो उसे पहले ही सुधार दिया जाना चाहिए। यही सेंसर बोर्ड उद्देश्य है।'

आपको बता दें कि पहलाज ने अचानक पद से हटाए जाने पर चुप्पी तोड़ी थी। पहलाज निहलानी ने मिड-डे को दिए इंटरव्यू में कहा था, 'मुझे बिल्कुल भी शॉक नहीं लगा बल्कि मैं तो बहुत खुश हूं और काफी रिलेक्स महसूस कर रहा हूं। मैंने पूरी ईमानदारी और लगन से अपना काम किया है और अब मैं पूरी फिल्म इंडस्ट्री को शुभकामनाएं देना चाहता हूं...साथ ही उन लोगों को भी जो मेरे खिलाफ खड़े थे।' 

पहलाज निहलानी ने आगे कहा, 'मैं सरकार के फैसले का स्वागत करता हूं। अब तक के अपने काम से मैं बहुत खुश हूं। मुझे कोई पछतावा नहीं है।'

Prasoon-Joshi-Copy

गौरतलब है कि प्रसून जोशी एक ऐसी शख्सियत हैं जिन्होंने लेखन से लेकर विज्ञापन, डायलॉग और लिरिक्स हर क्षेत्र में अपने बेहतरीन हुनर का परिचय दिया और उसी के बल पर अपनी एक अलग पहचान बनाई है। बॉलीवुड में उनकी शुरुआत बतौर गीतकार राजकुमार संतोषी की फिल्म 'लज्जा' से हुई। फिल्म हिट होने के बाद प्रसून जोशी का करियर चल पड़ा। इसके बाद उन्होंने 'हम तुम', 'फना', 'रंग दे बसंती', 'तारे जमीं पर', 'ब्लैक' और 'दिल्ली 6' जैसी फिल्मों के लिए गीत लिखे जो जबरदस्त हिट भी हुए। 'रंग दे बसंती' के लिए तो उन्होंने डायलॉग भी लिखे।

 

 


author
कुलदीप सिंह

Executive Editor - News World India. Follow me on twitter - @KuldeepSingBais

कमेंट करें