नेशनल

दोबारा कोबरा फोर्स में जाना चाहते है चेतन चीता है, कहा- कश्मीर को मेरी जरूरत

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
108
| मई 3 , 2017 , 12:31 IST | नई दिल्ली

आतंकी मुठभेड़ में 9 गोलियां खाने के बावजूद जिंदगी की जंग लड़ने वाले सीआरपीएफ जवान चेतन चीता कश्मीर के हालात से परेशान हैं। दरअसल, चेतन चीता इन दिनों कश्मीर को याद करते हैं और कहते है कि इस वक्त उन्हें कश्मीर में होना था, वहां पर मेरी जरूरत है।

Chetan-Cheetah.111

एक चैनल से बातचीत में चेतन ने कहा कि वह कोबरा दल का हिस्सा बनना चाहते हैं। इसके साथ ही कहा कि 9 गोलियां खाने के बावजूद मैं यहां आपके सामने बैठा हूं, मगर फिर भी लगता है कि मेरा कोई काम अभी अधूरा है। यह इसलिए है कि मैं कुछ खास ही हूं।

गौरतलब है कि 14 फरवरी को बांदीपुरा में आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में चेतन चीता जख्मी हो गए और 3 जवान शहीद हो गए थे। चीता पर 30 राउंड गोलियां चलाई गईं, जिनमें से 9 गोलियां उन्हें लगीं। घायल होने के बावजूद चीता ने आतंकियों पर फायरिंग जारी रखी और लश्कर के खूंखार आतंकी अबू हारिस को ढेर कर दिया।

जख्मी चीता को इलाज के लिए पहले श्रीनगर के आर्मी हॉस्पिटल ले जाया गया, मगर उनके हालात को देखते हुए उन्हें एयर ऐंबुलेंस के जरिए एम्स ले जाया गया। भर्ती होने के बाद कई दिनों तक तो चेतन चीता की हालत में कोई बदलाव नहीं देखा जा रहा था, लेकिन धीरे-धीरे स्वास्थ्य में सुधार हुआ और वे खतरे से बाहर निकल आये।


कमेंट करें