नेशनल

मौत को मात देकर फिर से खड़े हुए चेतन चीता, आतंकियों ने मारी थी 9 गोलियां

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
154
| अप्रैल 5 , 2017 , 14:58 IST | नई दिल्ली

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों को धूल चटाने के दौरान बुरी तरह से घायल हुए CRPF के कमांडेंट चेतन चीता को दिल्ली के एम्स अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। चेतन यहां पिछले दो महीने से भर्ती थे। पिछले दो महीने से कोमा में रहने के बाद चेतन चीता को कुछ दिन पहले होश आया था। डॉक्टर इसे किसी चमत्कार से कम नहीं बता रहे हैं। क्योंकि जब चेतन चीता को अस्पताल में भर्ती किया गया था, उस वक्त उनकी हालत बेहद ही खराब थी। लेकिन मौत को मात देते हुए चेतन चीता ने जिंदगी की जंग जीत ली। 

गौरतलब है कि बुरी तरह से घायल हुए चेतन चीता की जान बचाने के लिए वरिष्ठ डॉक्टरों की टीम पिछले कई दिनों से लगी हुई थी। भर्ती होने के बाद कई दिनों तक तो चेतन चीता की हालत में कोई बदलाव नहीं देखा जा रहा था, लेकिन धीरे-धीरे स्वास्थ्य में सुधार हुआ और वे खतरे से बाहर निकल आये।

Xchetan-kumar-cheetah-18-1487419095.jpg.pagespeed.ic.2Ve8o7jQUE

चेतन चीता के स्वास्थ्य लाभ की कामना के लिए देश भर में दुआओं का दौर चला। कोई मंदिर में तो कोई मस्ज़िद में, हर धर्म-सम्प्रदाय के लोगों ने चीता की सकुशल ज़िन्दगी के लिए कामना की।

CRPF-Commandant-Chetan-Kumar-320x180

 

आपको बता दें कि 14 फरवरी को बांदीपुरा में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में चीता घायल हो गए थे। इस मुठभेड़ में 3 जवानों की मौत हो गई थी। चीता पर 30 राउंड गोलियां चलाई गईं, जिनमें से 9 गोलियां उन्हें लगीं। घायल होने के बावजूद चीता ने आतंकियों पर फायरिंग जारी रखी और लश्कर के खूंखार आतंकी अबू हारिस को ढेर कर दिया। बुधवार को एम्स में केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने चीता से मुलाकात की ।


कमेंट करें