इंटरनेशनल

जिनपिंग के लिए बदलेगा चीन का संविधान, 2022 के बाद भी बने रहेंगे राष्ट्रपति

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
424
| फरवरी 25 , 2018 , 18:13 IST

चीन की कम्युनिस्ट पार्टी में राष्ट्रपति पद के कार्यकाल के लिए तय दो कार्यकाल की समयसीमा को समाप्त करने का प्रस्ताव पेश किया गया है। इस प्रस्ताव को मंजूरी मिलने पर चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के 2022 के बाद भी राष्ट्रपति बने रहने का रास्ता साफ हो जाएगा। चीन की सरकारी न्यूज एजेंसी 'शिन्हुआ' की रिपोर्ट में यह बात कही गई है। कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना की सेंट्रल कमिटी ने संविधान के उस प्रावधान में बदलाव का प्रस्ताव पेश किया है, जिसमें देश के राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति को लगातार दो कार्यकाल तक ही बने रहने की बात कही गई है।

कम्युनिस्ट पार्टी के चीफ होने के साथ मिलिट्री हेड भी हैं जिनपिंग

बीते साल कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना की नेशनल कांग्रेस के दौरान राष्ट्रपति शी चिनफिंग को दूसरा कार्यकाल दिए जाने पर मुहर लगी थी। शी चिनफिंग कम्युनिस्ट पार्टी के मुखिया होने के साथ ही देश की मिलिट्री के भी प्रमुख हैं। 64 वर्षीय शी चिनफिंग को पहली बार 2013 में देश का राष्ट्रपति चुने जाने के साथ ही पार्टी के मुखिया की जिम्मेदारी दी गई थी।

ताकतवर नेता के रूप में उभरे हैं जिनपिंग

2016 में कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना ने आधिकारिक तौर पर शी चिनफिंग को 'कोर लीडर' का टाइटल दिया था। सोमवार को पार्टी की नेशनल कांग्रेस की मीटिंग के दौरान इस प्रस्ताव को मंजूरी दी जा सकती है। समय की सीमा से परे देश पर शासन करने का अधिकार हासिल करने जा रहे शी चिनफिंग को आधुनिक चीन के अब तक के सबसे ताकतवर नेताओं में से एक माना जाता है।


कमेंट करें