इंटरनेशनल

शी जिनपिंग ने अमेरिका से कहा- चीन अपनी जमीन का एक इंच भी नहीं देगा

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1386
| जून 28 , 2018 , 15:46 IST

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और अमेरिका के रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस की दो दिवसीय मुलाकात में जिनपिंग ने मैटिस को साफ कर दिया कि बीजिंग शांति को लेकर प्रतिबद्ध है लेकिन वह प्रशांत महासागर में एक इंच जमीन भी नहीं छोड़ेगा। सीएनएन ने शी के हवाले से बताया, "जब बात चीन की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की होती है तो हमारा रुख दृढ़ और स्पष्ट होता है"। उन्होंने कहा कि हमें अपने देश की संप्रभुता और अखंडता की रक्षा करनी चाहिए और मातृभूमि के पूर्ण एकीकरण के लक्ष्य को प्राप्त करना चाहिये।

शी ने बताया "हम हमारे पूर्वजों द्वारा छोड़ी गई जमीन का एक इंच भी नहीं छोड़ सकते।" 

राष्ट्रपति ने यह भी कहा कि प्रशांत क्षेत्र में दक्षिण चीन सागर पर असहमतियों के बावजूद लंबे समय से यह सभी को पता है कि सैन्य मामलों के विशेषज्ञ मुद्दों को हल करने के लिए सैन्य साधनों का उपयोग नहीं करना चाहते। इसी पर मैटिस ने कहा कि बुधवार को शी और अन्य अधिकारियों के साथ उनकी वार्ता बहुत, बहुत अच्छी रही और अमेरिका चीन के साथ सैन्य संबंधों को बहुत महत्व दे रहा है। 

Xi-Jinping-Foto-NTB-Scanpix-cropped_system_toppbilde

पिछले वर्ष अक्टूबर में शी को लगातार दूसरी बार चीन की कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीसी) का महासचिव चुना गया। पार्टी और सेना के साथ-साथ जीवनपर्यंत राष्ट्रपति पद पर बने रहने की संभावनाओं के साथ शी सीपीसी संस्थापक माओ त्से तुंग के बाद वह देश के सबसे ताकतवर नेता बन गए हैं।जिनपिंग और मैटिस की यह मुलाकात चीन और अमेरिका के बीच बढ़े व्यापार तनाव के बीच हुई।

साल 2014 के बाद मैटिस चीन का दौरा करने वाले पहले रक्षा मंत्री हैं। इस दौरान मैटिस ने चीन के वरिष्ठ अधिकारियों से उत्तर कोरिया के परमाणु निरस्त्रीकरण और क्षेत्रीय स्थिरता पर चर्चा की, जो इनकी चर्चा का मुख्य बिंदू रहा।


कमेंट करें