नेशनल

चीनी मीडिया ने बदला राग, अब कहा- 'हम दुश्मन नहीं हैं' (वीडियो)

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
145
| अगस्त 21 , 2017 , 20:36 IST | बीजिंग

डोकलाम में भारत और चीन के बीच जारी तनाव को लेकर लंबे समय से हमलावर रुख रखने वाला चीनी मीडिया अब दोस्ती की दुहाई दे रहा है। भारत और चीन के बीच सीमा विवाद को सबसे ज्यादा तूल देने वाले चीनी मीडिया हाउस शिन्हुआ न्यूज (Xinhua News Agency) ने अपने ट्विटर हैंडल से लगातार भारत विरोधी बयान दिए थे।

हाल ही में इस चैनल ने अपने एक शो में भारत के 7 पाप गिनवाए थे। लेकिन अब दोनों देशों के बीच शांति बनाए रखने के कदम के तौर पर शिन्हुआ न्यूज (Xinhua News) Talk india के नाम से एक सीरीज शुरू की है। इसी के तहत जारी किए गए वीडियो में चीनी मीडिया दोनों देशों से संयम बरतते हुए डोकलाम विवाद को हल करने की सलाह देता दिख रहा है। इस वीडियो में शिन्हुआ ने भारत से शांति बनाए रखने की बात कही है।

4545

वीडियो में भारत और चीन की ऐतिहासिक संस्कृतियों और संबंधों का भी हवाला दिया गया है। वीडियो में कहा गया है, "एशिया, चीनी ड्रैगन और भारतीय हाथी का है, हम जन्म से दुश्मन नहीं हैं। चीन और भारत दुनिया की दो सबसे पुरानी सभ्यताएं हैं और शानदार संस्कृतियां हैं। ये दोनों देश प्रतिद्वंदी बनने के लिए नहीं बने हैं। हमारा ऐतिहासिक संबंध रहा है। 

इस वीडियो में चीनी मीडिया बताता है, "बीते दो महीनों से भी ज़्यादा समय से डोकलांग को लेकर भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ रहा है। 18 जून को भारतीय सेना दो बुलडोजर और हथियारों समेत सिक्किम सेक्टर को क्रॉस करके चीनी क्षेत्र में दाख़िल हो गई। इसके बाद चीन की रोड बनाने के काम को बाधित कर दिया। इससे दोनों देशों के बीच गतिरोध पैदा हुआ। ये मामला भारत की ओर से रणनीतिक विश्वास में कमी को दिखाता है। इससे भारत के ही हितों को नुकसान हो सकता है।

इससे पहले शिन्हुआ न्यूज ने Spark News के अपने सेगमेंट में भारत का मजाक बनाया था। इस कार्यक्रम में एकंर ने भारत के सात पाप गिनाए थे। लेकिन अब लगता है कि डोलकाम और लद्दाख में भारतीय जवानों के हाथों खदेड़े जाने के बाद अपना रुख बदल लिया है। अब चाइनीज मीडिया बातचीत से इस विवाद को हल करने की बात कह रहा है।


कमेंट करें

अभी अभी