राजनीति

खिचड़ी पर गरमाई सियासत, खिचड़ी की जरूरत अर्थव्यवस्था को है देश को नहीं: कांग्रेस

अर्चित गुप्ता | 0
66
| नवंबर 5 , 2017 , 14:14 IST | नई दिल्ली

दिल्ली के इंडिया गेट पर चल रहे इंटरनेशनल फूड फेस्टिवल 'वर्ल्ड फूड इंडिया' के दूसरे दिन 918 किलो खिचड़ी बनाकर विश्व रिकॉर्ड बनाया गया। लेकिन उधर कांग्रेस ने इसको लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस ने कहा कि मंत्रियों को देश के विकास के लिये प्रोत्साहित करने के बजाय मोदी सरकार बाबा रामदेव का प्रचार करने में जुटी है। कांग्रेस प्रवक्ता द्विजेंद्र त्रिपाठी ने कहा कि खिचड़ी पकाने से देश का विकास नहीं होने वाला। प्रधानमंत्री को अपने मंत्रियों को खिचड़ी पकाने के काम में लगाने की जगह विकास के कार्यों में लगाना चाहिए। अन्य महत्वपूर्ण मामलों पर रुचि दिखाने की बजाय प्रधानमंत्री मोदी सिर्फ समय और पैसा बर्बाद कर रहे हैं।'

टॉम वडक्कन ने कहा ,'रिकॉर्ड बनाना एक बड़ी बात है। और विश्व रिकॉर्ड तोड़ने के लिए ही बनते हैं। तो अगले साल बनाने और तोड़ने के लिए कई और अधिक रिकॉर्ड होंगे। खिचड़ी आमतौर पर तब खिलाई जाती है जब लोग बीमार हो जाते हैं। अभी अर्थव्यवस्था बीमार है तो खिचड़ी की जरूरत अर्थव्यवस्था को है देश को नहीं'।  आपको बता दें कि दिल्ली के इंडिया गेट पर चल रहे वर्ल्ड फुड इंडिया फेस्टिबल में मूंग, अरहर और चावल की 918 किलोग्राम की खिचड़ी पका कर गिनिज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम किया गया।

56-Tom-Vadakkan_5

918 किलोग्राम की खिचड़ी में तड़का योग गुरु बाबा रामदेव ने लगाया। इस मौके पर मोदी सरकार के मंत्री हरसिमरन कौर और स्वाध्वी निर्मला ज्योति भी मौजूद रहीं। इस खिचड़ी को दिल्ली में रहने वाले 10 हजार गरीब परिवारों में बांटा गया। इस खिचड़ी को मशहूर शेफ संजीव कपूर की देखरेख में 50 शेफ ने मिलकर तैयार किया।

A


कमेंट करें