नेशनल

आनंदपाल एनकाउंटर: नागौर में भारी बवाल, पुलिस फायरिंग में एक की मौत

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
178
| जुलाई 13 , 2017 , 12:58 IST | नागौर

कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल सिंह के मारे जाने के 15 दिन बाद भी बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। आनंदपाल के एनकाउंटर को लेकर पूरे राजस्थान में बवाल मचा हुआ है। राजपूत समाज के लोगों ने एनकाउंटर को फर्जी बताते हुए सीबीआई जांच की मांग की है। एनकाउंटर के विरोध में नागौर में करीब 50 हजार की संख्या में राजपुत समाज के लोग इकट्ठा हुए। प्रदर्शन के दौरान लोगों की पुलिस से झड़प हो गई।

प्रदर्शनकारियों ने एसपी पारस देशमुख की गाड़ी में आग लगा दी। इतना ही नहीं चार बसों में आग लगा दी गई। डिडवाना के पास लोगों ने रेलवे ट्रैक से फिशप्लेट उखाड़ने की भी कोशिश की। सरकार के मुताबिक उपद्रवियों को खदेड़ने के लिए केवल रबर की गोलियों, आंसू गैस और लाठीचार्ज किया गया। इस पूरे घटनाक्रम में मूल रूप से हरियाणा के रहने वाले एक शख्‍स की मौत हो गई।

इस झड़प में 21 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं जिसमें से दो की हालत गंभीर बताई जा रही है। उसके साथ ही प्रदर्शन कर रहे दर्जनभर से ज्यादा लोग भी घायल हुए हैं।

हिंसा के दौरान घायल हुए पुलिसकर्मियों और अन्य लोगों को उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया है। इलाके में तनाव देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

गौरतलब है कि आनंदपाल करीब डेढ़ साल पहले एक अदालत में पेशी के बाद अजमेर केंद्रीय कारागृह लौटते समय सुरक्षाकर्मियों की कथित मिलीभगत से फरार हो गया था। राजस्थान पुलिस की विशेष अभियान समूह ने गत 24 जून को एक मुठभेड़ में आनंदपाल को मार गिराया था। पुलिस ने अगले दिन 25 जून को शव का पोस्टमार्टम करवा कर परिजनों को शव लेने के लिए पुलिस नियमों के तहत नोटिस जारी किया, बावजूद परिजनों ने पुलिस मुठभेड़ की सीबीआई से जांच करवाने के आदेश नहीं होने तक शव लेने से इनकार कर दिया था।


कमेंट करें