नेशनल

सुनंदा पुष्कर केस की जांच में देरी से दिल्ली HC नाखुश, पुलिस से मांगी स्टेटस रिपोर्ट

गोपाल कृष्ण, संवाददाता, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
232
| अगस्त 1 , 2017 , 16:37 IST | नयी दिल्ली

कांग्रेस नेता शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत के मामले में दिल्ली पुलिस द्वारा दायर प्रगति रिपोर्ट से दिल्ली हाईकोर्ट संतुष्ट नहीं है। कोर्ट ने पुलिस को सख्त निर्देश दिया है कि वो इस मामले में एडिशनल स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करें। कोर्ट में बीजेपी के वरिष्ठ नेता और सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने दलील दी कि उन्होंने सुनंदा पुष्कर की मौत पर जनहित याचिका पब्लिसिटी के लिए दायर नहीं की है। वह एक राजनेता हैं और उनकी पहचान यहीं है। हालांकि स्वामी ने ये भी कहा कि पुष्कर की मौत रहस्यमयी तरीके से हुई है और इसपर से पर्दा उठना जरूरी है कि आखिर सुनंदा की मौत कैसे हुई।

Sunanda-story_650_010915101234

दिल्ली हाईकोर्ट मे स्वामी ने सुनंदा पुष्कर के बेटे शिव मेनन पर भी आरोप लगाया कि दो साल बाद अपनी मां की मौत की जांच के लिए हाईकोर्ट में याचिका इसलिए दी गई क्योंकि उसे अपनी मां के जायदाद में रुचि है। फिलहाल, कोर्ट अब 30 अगस्त को इस मामले पर सुनवाई करेगा।

आपको बता दें कि दिल्ली पुलिस अभी तक इस मामले में आरोप पत्र दाखिल नहीं कर पाई है। सुब्रमण्यम स्वामी  ने कहा था कि वो सारी कोशिशें करने के बाद आख़िर में कोर्ट की शरण में आये हैं। सुनंदा पुष्कर अपनी मौत से पहले आईपीएल से जुड़े घोटाले का खुलासा करना चाहती थीं, जिसमें कई बड़े नाम शामिल थे।

SUNANDA

सुब्रमण्यम स्वामी ने कोर्ट में ये भी दलील दी है कि पुष्कर की मौत जनवरी 2014 में हुई, जबकि दिल्ली पुलिस ने इस मामले में एफआईआर 2015 में रजिस्टर की। वहीं मौत के बाद दिल्ली पुलिस द्वारा किसी प्रकार की विजलेंस जांच नहीं की गई न ही कोई कमेटी बनाई और जिस दिन पुष्कर की मौत हुई, उस दिन उनके होटल के फ्लोर का सीसीटीवी खराब था। ऐसे में पुष्कर की मौत किन वजह से हुई ये जानना बहुत ही महत्वपूर्ण है।

फिलहाल, ये देखना काफी अहम होगा कि सुनंदा पुष्कर की मौत से जुड़े जांच रिपोर्ट में तमाम एजेंसियां अपना क्या पक्ष रखती हैं। गौरतलब है कि कांग्रेस सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर 17 जनवरी, 2014 को दिल्ली के होटल लीला पैलेस में रहस्यमयी हालात में मृत पाई गई थीं।


कमेंट करें