राजनीति

हार्दिक पटेल के बोल- राहुल गांधी को नेता नहीं मानता, प्रियंका राजनीति में आएं

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
377
| फरवरी 24 , 2018 , 10:02 IST

गुजरात में पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने कहा कि वो कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अपना नेता नहीं मानते हैं, लेकिन वो उन्हें व्यक्तिगत स्तर पर पसंद जरूर करते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि गांधी परिवार के पास राजनीति का अच्छा अनुभव है, ऐसे में अगर प्रियंका राजनीति में आती हैं तो जनता को उस राजनीतिक अनुभव का फायदा होगा।

बता दें कि हार्दिक पटेल गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान राहुल गांधी के साथ काम कर चुके हैं। उन्होंने यह बात भी कही कि कांग्रेस ने उनके आंदोलन को पूरी तरह से सपोर्ट किया था।

इसके साथ ही उन्होंने 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के बारे में बात करते हुए कहा कि भले ही वह 25 साल के हो जाएंगे, लेकिन इसमें वह हिस्सा नहीं लेंगे। उन्होंने कहा, ‘मैं 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ लोकसभा चुनाव नहीं लड़ूंगा। असल में, मैंने तो यह भी फैसला किया है कि अगले साल मैं चुनाव ही नहीं लड़ूंगा, जबकि मैं लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए योग्य हो जाऊंगा।’ हार्दिक पटेल ने पिछले साल गुजरात विधानसभा चुनाव इसलिए नहीं लड़ सके थे, क्योंकि उनकी उम्र कम थी।

ये भी पढ़ें-PM मोदी चेन्नई में लॉन्च करेंगे अम्मा दो पहिया योजना, महिलाओं को मिलेगी सब्सिडी

पटेल ने आगे कहा, ‘हालांकि मैं चुनाव लड़ने के योग्य हो जाऊंगा, लेकिन मैं चुनाव नहीं लड़ूंगा। मैं सोचता हूं कि इस वक्त मुझे उन लोगों के करीब रहना चाहिए, जिनके अधिकारों के लिए मैं काम कर रहा हूं। जिन लोगों का मैं विधानसभा या संसद में प्रतिनिधित्व करूंगा, उनके बारे में जानना अभी ज्यादा जरूरी है। सबसे पहले मैं लोगों के बारे में सब कुछ अच्छी तरह से जानना चाहता हूं, इस वक्त ऐसा करना ज्यादा जरूरी है।’

उन्होंने कहा, 'सबसे पहले मैं वह सबकुछ समझना चाहता हूं। विशेषतौर पर जनता क्या चाहती है और किस चीज की वह हकदार है।' हार्दिक पटेल ने माना कि उनकी गर्लफ्रेंड है और उनके साथ वह शादी करेंगे। हार्दिक ने कहा, 'हां मेरी गर्लफ्रेंड है और मुझे इसको स्वीकारने में कोई शर्म नहीं है।' कथित सेक्स सीडी पर हार्दिक ने कहा कि वह इस पर लोगों को क्यों समझाएं। वह अपने कमरे में क्या करते हैं, उससे किसी को क्या मतलब है।

हार्दिक ने कहा, 'बीजेपी वालों ने कहा की हमें सत्ता में बिठाओ, हम राम मंदिर बनाएंगे लेकिन अब राम मंदिर की बात नहीं होती। विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को राम मंदिर की बात नहीं करने के लिए बीजेपी ने कहा है। अगर राम मंदिर की बात करेंगे तो कार्यकर्ताओं पर पुलिस केस लगाया जाएगा।'


कमेंट करें