नेशनल

मीसा भारती से 6 घंटे चली पूछताछ, पति शैलेश को पूछताछ के लिए साथ ले गई ED की टीम

अनुराग गुप्ता, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
134
| जुलाई 8 , 2017 , 16:38 IST | नई दिल्ली

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव और उनके परिवार के लिए मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। शुक्रवार को सीबीआई ने लालू के 12 ठिकानों पर छापा मारा और राबड़ी देवी समेत पूरे परिवार से पूछताछ की। अब शनिवार सुबह से प्रवर्तन निदेशालय ने दिल्ली में राज्यसभा सांसद मीसा भारती और पति शैलेश से जुड़े तीन ठिकानों पर छापे मारे। मीसा भारती और उनके पति से ईडी की टीम ने छह घंटे तक गहन पूछताछ की। पूछताछ के बाद ईडी के अधिकारी लालू के दामाद शैलेश को सैनिक फार्म स्थित उनके फार्म हाउस पर अपने साथ ले गए।

बताया जा रहा है कि ईडी की टीम ने मीसा भारती और उनके पति शैलेश कुमार का मोबाइल भी जब्त कर लिया है।

8000 करोड़ की मनी लांड्रिंग का आरोप

आरोप है कि मीसा और उनके पति शैलेश ने मनी लॉन्ड्रिंग की है। मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत ईडी की छापेमारी की गई है। दरअसल 8000 करोड़ के ब्लैकमनी से व्हाइट करने के मामले मे जांच चल रही है, जिसमें कई लोगों द्वारा शैल कंपनियो के जरिए कालेधन को सफेद करने का आरोप है। दिल्ली के बिजवासन और सैनिक फार्म इलाके में मीसा के फार्म हाउसों पर छापेमारी की गई है।

मीसा-शैलेश की कंपनी मिशेल पर भी छापेमारी

आरोपों के मुताबिक इसी कंपनी में चार शैल कंपनियो के जरिए पैसा आया था। इसी पैसे से दिल्ली में फार्म हाऊस खरीदा गया था। ईडी इस मामले में शैल कंपनी के मालिक जैन बंधुओं और शैलेश के सीए राजेश अग्रवाल को गिरफ्तार कर चुका है। उन्हीं के खुलासे से मीसा के बारे मे पता चला था।

गौरतलब है कि 21 जून को बेनामी संपत्ति मामले में मीसा भारती और शैलेश से आयकर विभाग पहले ही पूछताछ कर चुका है। इससे पहले 16 मई को बेनामी संपत्ति मामले में आयकर विभाग ने लालू के 22 ठिकानों पर छापेमारी की थी।

मीसा के परिवार से जैन ब्रदर्स का क्या कनेक्शन है

ईडी को शक है कि कारोबारी बीरेंद्र जैन और सुरेंद्र कुमार जैन ने करीब 8000 करोड़ की मनी लॉन्ड्रिंग की है। जैन ब्रदर्स ने ही मीसा को मनी लॉन्ड्रिंग के जरिए दिल्ली के बिजवासन में करीब डेढ़ करोड़ का फार्म हाउस दिलाया। मई में इसी मनी लॉन्ड्रिंग केस में भारती के चार्टर्ड अकाउंटेंट (सीएम) राजेश अग्रवाल को ईडी ने अरेस्ट कर किया था। इस मामले में शेल कंपनियों के कारोबारी बीरेंद्र जैन और सुरेंद्र कुमार जैन की पहले ही गिरफ्तारी हो चुकी है। फिलहाल वो जेल में हैं। उन पर कई हाई-प्रोफाइल लोगों की ब्लैकमनी को व्हाइट करने का आरोप है।

जैन ब्रदर्स पर क्या है आरोप

जैन ब्रदर्स पर आरोप है कि उन्होंने मीसा भारती और उनके पति शैलेश कुमार की बंद पड़ी कंपनी मीशैल पैकर्स के 10 रुपए मूल्य के 1 लाख 20 हजार शेयर 90 रुपए प्रीमियम पर खरीदे। फिर इस पैसे का इस्तेमाल दिल्ली के बिजवासन में 1.41 करोड़ रुपए में 3 एकड़ का फार्म हाउस खरीदने में किया गया।

ईडी के मुताबिक, जैन ब्रदर्स पर नेताओं और उनके परिवार वालों की ब्लैकमनी को शेल कंपनियों के जरिए लीगल करने के एवज में कमीशन लेने का आरोप है। ईडी ने इस फार्म हाउस को भी जब्त कर लिया है।


कमेंट करें