इंटरनेशनल

फ्रांस चुनाव: पहले दौर में जीते 39 साल के एमेनुएल मैकरॉन का राष्ट्रपति बनना तय

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
181
| अप्रैल 25 , 2017 , 11:53 IST | पेरिस

फ्रांस में राष्ट्रपति चुनाव के प्रथम चरण के मतदान के अंतिम नतीजों में यूरोप समर्थक एमेनुएल मैकरॉन को 24.01 फीसदी और धुर दक्षिणपंथी उम्मीदवार मरीन ले पेन को 21.30 फीसदी वोट मिले हैं। अंतिम नतीजे में पहले के परिणाम के मुकाबले मामूली अंतर देखने को मिला है। अब दोनों दूसरे एवं अंतिम चरण के चुनाव में एक दूसरे का सामना करने के लिए तैयार हैं।

नतीजों में एमेनुएल मैकरॉन को देश के इतिहास में सबसे पसंदीदा युवा नेता के तौर पर उभरते हुए दिखाया गया है। इससे पहले गृह मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़े में कहा गया था कि एमेनुएल मैकरॉन 23.9 प्रतिशत मतों के साथ सबसे आगे रहे। वह नेशनल फ्रंट के नेता ले पेन को मिले 21.4 प्रतिशत मतों से कुछ ही आगे रहे।

ये दोनों सात मई को आमने-सामने के मुकाबले में उतरेंगे। पेरिस में अपने हजारों समर्थकों को 39 वर्षीय एमेनुएल मैकरॉन ने कहा,

मैं कई महीनों से फ्रांसीसी जनता के रोष, डर और संशयों के बारे में सुनता आ रहा हूं और आज भी मैंने इस बारे में सुना।

 

उन्होंने संकल्प लिया कि वह फ्रांसीसी राजनीति के नवीकरण और देश को आधुनिक बनाने के अपने एजेंडे के पीछे ‘देशभक्तों’ को ले पेन और ‘राष्ट्रवादियों के खतरे’ के खिलाफ एकजुट करेंगे।

2017-04-23T180104Z_1371274998_RC1ABF64A7B0_RTRMADP_3_FRANCE-ELECTION-960x680

फ्रांस के राष्ट्रपति चुनाव की दौड़ में आगे चल रहीं धुर दक्षिणपंथी उम्मीदवार मरीन ले पेन का कहना है कि वह सात मई को होने वाले अंतिम दौर के चुनाव से पहले बड़ी संख्या में लोगों का समर्थन हासिल करने के लिए पार्टी के प्रमुख पद से इस्तीफा दे देंगी। पेन ने 2011 में अपने पिता जीन मेरी ले पेन के बाद नेशनल फ्रंट (एनएफ) पार्टी की कमान संभाली थी।

पेन ने सोमवार को 'फ्रांस 2' टेलीविजन को बताया,

मैंने हमेशा यह सोचा है कि फ्रांस का राष्ट्रपति फ्रांस के सभी लोगों का राष्ट्रपति होता है और उस पर पूरे देश को जोड़ने की जिम्मेदारी होती है लेकिन कथनी को करनी में बदलने की भी जरूरत है।




पेन ने कहा,

मैने नेशनल फ्रंट की अध्यक्षता छोड़ने का फैसला किया है। अब मैं पार्टी की अध्यक्ष नहीं रहूंगी।



सिन्हुआ ने पेन के हवाले से बताया,

हम वे लोग हैं जो लोकतंत्र को परिभाषित करते हैं। मेरी कोई भी गतिविधियां लोगों के लिए खिलाफ नहीं होगी। सिर्फ मैं ही देश की सुरक्षा की गारंटी दे सकती हूं।



रविवार को हुए चुनाव की मतगणना में पेन 76.7 लाख वोटों यानी 21.30 फीसदी मतों के साथ दूसरे स्थान पर रहीं। यदि पेन (48) चुनाव जीत जाती हैं तो वह देश की पहली महिला राष्ट्रपति होंगी।

 

170222091143-french-elections-investing-1100x619


कमेंट करें