खेल

चैम्पियंस ट्रॉफी : न्यूजीलैंड को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचा इंग्लैंड

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
75
| जून 7 , 2017 , 08:58 IST | कार्डिफ

इंग्लैंड ने आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के ग्रुप-ए में मंगलवार को लगातार दूसरी जीत दर्ज की है। मेजबान टीम ने अपने दूसरे मैच में न्यूजीलैंड को 87 रनों से करारी मात दी। इंग्लैंड ने किवी टीम के सामने 311 रनों का चुनौती पूर्ण लक्ष्य रखा था, जिसे किवी टीम हासिल नहीं कर पाई और 44.3 ओवरों में 223 रनों पर ढेर हो गई। इस जीत के साथ इंग्लैंड ने सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली है।

न्यूजीलैंड के लिए सर्वाधिक रन कप्तान केन विलियमसन (87) ने बनाए। उनके अलावा कोई और बल्लेबाज अर्धशतक नहीं जमा सका। अनुभवी बल्लेबाज रॉस टेलर ने 39 रनों का योगदान दिया। इंग्लैंड की तरफ से आठ ओवरों में 31 रन देकर दो मेडन सहित दो विकेट लेने वाले जैक बॉल को किफायती गेंदबाजी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। इंग्लैंड के लिए लियाम प्लंकेट ने चार विकेट लिए। इंग्लैंड ने जोए रूट (64), जोस बटलर (नाबाद 61) और ऐलक्स हेल्स (56) की अर्धशतकीय पारियों की बदौलत किवी टीम के सामने चुनौतीपूर्ण लक्ष्य रखा था।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी किवी टीम की शुरुआत खराब रही। पहले ओवर की चौथी ही गेंद पर बॉल ने ल्यूक रोंची को बोल्ड कर उन्हें खाता खोलने का भी मौका नहीं दिया। हालांकि इसके बाद विलियमसन ने अनुभवी बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल (27) का साथ दिया और दूसरे विकेट के लिए 62 रनों की साझेदारी की। बेन स्टोक्स ने गुप्टिल की पारी का अंत किया। विलियमसन को इसके बाद टेलर का साथ मिला। दोनों जब तक मैदान पर रहे न्यूजीलैंड मजबूत स्थिति में लग रही थी। लेकिन मार्क वुड ने विलियमसन को विकेट के पीछे बटलर के हाथों कैच करा न्यूजीलैंड को बड़ा झटका दिया। पवेलियन लौटने से पहले उन्होंने टेलर के साथ तीसरे विकेट के लिए 95 रनों की साझेदारी को अंजाम दिया।

विलियमसन ने 98 गेंदों का समाना करते हुए आठ बार गेंद को सीमा रेखा के पार पहुंचाया। उनके जाने के कुछ देर बाद टेलर भी पवेलियन लौट लिए। यहां से किवी टीम की पारी लड़खड़ा गई। नील ब्रूम (11), जिम्मी नीशम (18), कोरी एंडरसन (10), मिशेल सैंटनर (3), एडम मिलने (10) और टिम साउदी (2) विकेट पर टिक नहीं सके और एक के बाद एक पवेलियन लौट गए। बॉल और प्लंकेट के अलावा आदिल राशिद ने दो विकेट लिए। वुड और स्टोक्स को एक-एक सफलता मिली। इससे पहले, धीमी शुरुआत के बाद इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने अंत में तेजी से रन बटोरते हुए 300 का आंकड़ा पार किया। अंत के पांच ओवरों में इंग्लैंड ने 49 रन जोड़े और तीन विकेट गंवाए।

जेसन रॉय 13 रन बनाकर इंग्लैंड की तरफ से पहले विकेट के रूप में पवेलियन लौटे। उनका विकेट 37 के कुल योग पर गिरा। दूसरे सलामी बल्लेबाज हेल्स (56) को रूट (64) का साथ मिला। दोनों ने टीम का स्कोर 100 के पार पहुंचाया। 118 के कुल स्कोर पर हेल्स, मिलने की गेंद पर बोल्ड हो गए। 62 गेंदों में तीन चौके और दो छक्के मारने वाले हेल्स ने रूट के साथ दूसरे विकेट के लिए 81 रन जोड़े। कप्तान मोर्गन को एंडरसन ने पैर जमाने नहीं दिए और 13 के निजी स्कोर पर विकेटकीपर रौंची के हाथों कैच करवाया। मोर्गन के बाद मैदान पर आए स्टोक्स (48) और रूट 54 रनों की साझेदारी कर अच्छी लय में नजर आ रहे थे कि एंडरसन ने रूट को अपना दूसरा शिकार बनाया। रूट ने 65 गेंदें खेलीं और चार चौके तथा दो छक्के लगाए।

स्टोक्स को ट्रेंट बाउल्ट ने अर्धशतक पूरा नहीं करने दिया। बाउल्ट की बाउंसर को छोड़ते-छोड़ते स्टोक्स ने अंतिम समय पर बल्ला लगाया और थर्ड मैन पर मिलने ने उनका कैच पकड़ा। मोइन अली 12 रनों का योगदान देकर इंग्लैंड के छठे विकेट के रूप में मैदान से बाहर गए। अंत में बटलर ने 48 गेंदों में दो छक्के और इतने ही चौके लगाते हुए नाबाद 61 रनों की पारी खेली। किवी टीम के लिए मिलने और एंडरसन ने तीन-तीन विकेट लिए। टिम साउदी को दो विकेट मिले। बाउल्ट और मिशेल सैंटनर को एक-एक सफलता मिली। चैम्पियंस ट्रॉफी में बुधवार को पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रीका के बीच अगला मैच होगा।


कमेंट करें