अभी-अभी

साइबर अटैक पर हरकत में सरकार, RBI-स्टॉक एक्सचेंज और NPCI को किया अलर्ट

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
122
| मई 14 , 2017 , 13:46 IST | नई दिल्ली

भारत सहित दुनिया के 100 देशों में एक साथ साइबर अटैक की घटना के बाद सरकार ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई), स्टॉक मार्केट और एनपीसीआई को अलर्ट किया है।

Hack 1

साइबर सिक्युरिटी आर्म ने इस संबंध में इन एजेंसियों को ‘डूज एंड डोंट्स’ जारी किए हैं और डाटा लीक जैसी कोई घटना रोकने के लिए पर्याप्त उपाय करने की सलाह दी है।
आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक सरकार ने हालात से निपटने के हर संभव व्यवस्था की है। कहा गया है कि,

इंडियन कंप्यूटर इमर्जेंसी रिस्पॉन्स टीम (सीईआरटी-इन) के सामने साइबर अटैक की कोई बड़ा बड़ा मामला नहीं आया है

100 देशों में हुआ साइबर अटैक

इससे पहले शनिवार की सुबह दुनिया भर के 100 देशों में साइबर अटैक का सनसनीखेज मामला सामने आया था। अनजान लोगों की ओर से किए गए इस हमले में सैकड़ों देशों के कम्‍प्‍यूटर्स ने काम करना बंद कर दिया।

Hack 2

यह खास तरह का रैनसमवायर साइबर अटैक है, जिसने बिटकॉइन में फिरौती की मांग की। इसके चलते ब्रिटेन समेत कई देशों की स्‍वास्‍थ्‍‍‍य सेवाएं बुरी तरह से चरमरा गईं।

ब्रिटेन की नेशनल हेल्थ सर्विस बुरी तरह हुई प्रभावित

ब्रिटेन की नेशनल हेल्थ सर्विस (एनएचएस) इस अटैक से बुरी तरह प्रभावित हुई। अटैक के चलते मरीजों के ऑनलाइन रिकॉर्ड पहुंच के बाहर हो गए। इस हमले के तरह फिरौती के लिए डेवलप किए गए प्रोग्राम ने हजारों जगहों के कंप्यूटर्स लॉक कर दिए, और पेमेंट नेटवर्क 'बिटकॉइन' के जरिए 230 पाउंड की फिरौती मांगी गई।

क्‍या होता है रैनसमवैयर

रैनसमवैयर एक कंप्यूटर वायरस है जो कम्‍प्यूटर्स फाइल को बर्बाद करने की धमकी देता है। धमकी दी जाती है कि अगर अपनी फाइलों को बचाना है तो फीस चुकानी होगी। यह वायरस कंप्यूटर में मौजूद फ़ाइलों और वीडियो को इनक्रिप्ट कर देता है और उन्हें फिरौती देने के बाद ही डिक्रिप्ट किया जा सकता है।

Hack 3

इसमें फिरौती चुकाने के लिए समयसीमा निर्धारित की जाती है और अगर समय पर पैसा नहीं चुकाया जाता है तो फिरौती की रकम बढ़ जाती है।

बिटकॉइन में मांगी गई फिरौती

साइबर अटैक करने वालों ने बिट कॉइन में फिरौती की मांग की है। साइबर अटैक के जरिए अभी तक बिटकॉइन मांगेने के 36 मामलों का पता चला है। यही नहीं कुछ संगठनों ने बिटकॉइन में पेमेंट कर भी दी है, हालांकि यह अटैकर्स के पास पहुंची है या नहीं, इसका पता नहीं चल पाया है।

Hack 4


कमेंट करें

अभी अभी