अभी-अभी

शिवराज जी जरा देखिये! गरीब किसान ने हल में बैल की जगह बेटियों को लगा दिया

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
128
| जुलाई 9 , 2017 , 18:14 IST | सिहोर

किसी ने सच ही कहा है कि गरीबी कुछ भी करा देती है। मध्य प्रदेश से एक दिल दहलाने वाली तस्वीर सामने आई है जो इस बात का जीता जाता उदहारण है । राज्य के सिहोर जिले के बसंतपुर पंगड़ी गांव में आर्थिक तंगी से परेशान से एक किसान ने खेत को जोतने के लिए बैलों की जगह अपनी बेटियों का इस्तेमाल किया।

किसान का कहना है कि उसके पास बैल खरीदने के लिए पैसे नहीं हैं। मक्के के फसल की बुआई करने के लिए खेतों की जुताई की। आर्थिक कारणों से उसकी लड़कियों ने 8वीं क्लास के बाद पढ़ाई छोड़ दी । दोनों बेटियां राधिका 14 साल की और कुन्ती 11 साल की है।

जिला जनसंपर्क अधिकारी (डीपीआरओ) आशीष शर्मा ने कहा कि प्रशासन मामले को देख रहा है और सरकारी योजनाओं के अनुरूप समुचित मदद परिवार को दी जाएगी साथ ही किसान को चेतावनी दी कि इस तरह के कामों में बच्चों का इस्तेमाल ना करे।

गौरतलब है कि मध्‍य प्रदेश में किसानों की स्थिति अत्‍यंत दयनीय है। कर्ज के बोझ तले दबे किसानों द्वारा आत्‍महत्‍या जैसे कदम उठाए जाने की खबरें आती रहती हैं। हाल ही में किसानों द्वारा पूरे राज्‍य में आंदोलन भी चलाया गया। इस दौरान हिंसा में कई किसानों को जानें भी गंवानी पड़ी। देश के कई अन्‍य राज्‍यों में भी किसानों का हाल बुरा है।


कमेंट करें