अभी-अभी

नफरत बढ़ाने के लिए सुकमा की जगह कुपवाड़ा के शहीदों को दी गई तरजीह: फारुख अब्दुल्ला

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
119
| जनवरी 1 , 1970 , 05:30 IST | कश्मीर

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला ने कुपवाड़ा के शहीदों का अपमान किया है। शनिवार को उन्होंने श्रीनगर में कहा कि सुकमा के शहीदों की कोई चर्चा नहीं कर रहा है लेकिन कुपवाड़ा के शहीदों की शहादत को बढ़ा चढ़ाकर पेश किया जा रहा है। 

कुपवाड़ा के जिस आंतकी हमले में कानपुर के कैप्टन आयुष समेत तीन जवान शहीद हुए थे, उस आतंकी हमले की तुलना फारुक अब्दुल्ला ने सुकमा के नक्सली हमले से करते हुए कहा कि सुकमा के शहीदों को कोई याद नहीं कर रहा है जबकि कुपवाड़ा के शहीदों की शहादत को बढ़ा चढ़ाकर पेश किया जा रहा है। फारुक अब्दुल्ला ने कहा कि शहादत का जितना हक कुपवाड़ा में शहीद हुए सैनिकों को मिल रहा है, उतना ही हक सुकमा के शहीदों को भी मिलना चाहिए। 

Medianri8farooq_abdullah

बता दें कि 24 अप्रैल को सुकमा जिले में चिंतागुफा के पास नक्सली हमले में सीआरपीएफ के 25 जवान शहीद हुए थे। इसके तीन दिन बाद गुरुवार को तीन आतंकियों ने कुपवाड़ा के पंजगाम में आर्मी कैंप पर हमला किया। इसमें आर्मी कैप्टन आयुष यादव, सूबेदार भूपिंदर सिंह और लांस नायक बी. वेंकट रमन्ना शहीद हो गए थे। वहीं, 5 जख्मी जवानों का श्रीनगर के आर्मी हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है।
Mediamb29faeook


कमेंट करें