लाइफस्टाइल

हाथ की लकीरों पर भरोसा करते हैं? हां तो देखिए ये राज छुपा है आपके हाथों में...

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
525
| अप्रैल 28 , 2017 , 15:29 IST | नयी दिल्ली

हाथों की लकीरें देखकर कई बातों का पता लगाया जाता है। रेखा आपकी आर्थिक स्थिति के बारे में काफी कुछ बताती है। कहा जाता है कि हथेली में रेखा की स्थिति से आपको कई तरह की जानकारी मिल सकती है। बता दें हम इस आर्टिकल के जरिये अन्धविश्वास को बढ़ावा नहीं दे रहे हैं बल्कि प्राचीन हस्तरेखा विज्ञान की बारीकियां आपको समझाने की कोशिश कर रहे हैं। 

दरअसल हमारी हथेली में कई प्रकार की रेखाएं होती हैं, जैसे- जीवन रेखा, हृदय रेखा, मस्तिष्क रेखा, विवाह रेखा, सूर्य रेखा, बुध रेखा, भाग्य रेखा आदि। हस्तरेखा ज्योतिष के अनुसार भाग्य रेखा बताती है कि व्यक्ति भाग्यशाली है या नहीं।

कहां होती है भाग्य रेखा?


भाग्य रेखा जीवन रेखा, मणिबंध, मस्तिष्क रेखा, हृदय रेखा या चंद्र पर्वत से शुरू होकर शनि पर्वत (मध्यमा उंगली के नीचे वाला भाग शनि पर्वत कहलाता है) की ओर जाती है।

यदि हथेली में भाग्य रेखा जीवन रेखा से प्रारंभ हो तो व्यक्ति खुद की मेहनत से काफी अधिक धन प्राप्त करता है।

1

यदि किसी व्यक्ति की हथेली में भाग्ये रेखा मणिबंघ से प्रारंभ होकर शनि पर्वत तक गई हो और दोष रहित है तो व्यक्ति भाग्यशाली होता है। ऐसे लोग सफल होते हैं।

2

जिन लोगों की हथेली में भाग्ये रेखा चंद्र पर्वत से प्रारंभ हुई है, वे दूसरों की मदद या प्रोत्साहन से सफलता प्राप्त करते हैं।

3

यदि भाग्ये रेखा हथेली को पार करते हुए मध्यमा उंगली (मिडिल फिंगर) तक जा पहुंचे तो यह अशुभ योग दर्शाती है। ऐसा व्यक्ति खुद की गलतियों से हानि उठाता है।

4

यदि भाग्ये रेखा किसी स्थान पर जीवन रेखा को काट दे तो उस आयु में व्यक्ति को कोई अपमान या कलंक झेलना पद सकता है।

5

भाग्ये रेखा हथेली के प्रारंभ से जितनी अधिक दूर होती है, व्यक्ति का भाग्योदय उतना ही विलंब से होता है।

6


कमेंट करें