नेशनल

हिमाचल में 'पद्मावत' को हरी झंडी, बोले सीएम जयराम ठाकुर कला का करता हूं सम्मान

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
76
| जनवरी 14 , 2018 , 13:28 IST | मुंबई

सेंसर बोर्ड की मंजूरी के बाद भी फिल्म 'पद्मावत' का संकट खत्म होते नजर नहीं आ रहा है। एक-एक सिलसिलेवार तरीके से बीजेपी शासित राज्यों में इस फिल्म के रिलीज पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है। एक ओर जहां उत्तर प्रदेश, राजस्थान, गुजरात जैसे बीजेपी शासित राज्यों में फिल्म बैन कर दी गई है वहीं हिमाचल प्रदेश की बीजेपी सरकार ने इस फिल्म को अपने राज्य में रिलीज करने का फैसाला किया है।

जयराम ठाकुर ने कहा, मैं पहले ही कह चुका था कि मैं कला का सम्मान करता हूं। जहां तक 'पद्मावत' से जुड़ी बात है, हिमाचल सरकार अपने प्रदेश में इस पर प्रतिबंध लगाने के पक्ष में नहीं है। अगर इसमें कोई विवाद नहीं है तो हमें इस यहां रिलीज करने में कोई आपत्ति नहीं है। मैं चाहता हूं यह फिल्म सिनेमाघरों में प्रदर्शित की जाए।

ये भी पढ़ें-पद्मावत: राजपूत महिलाओं ने दी जौहर की धमकी, 17 जनवरी को होगा विरोध प्रदर्शन

वहीं गुजरात के सीएम विजय रुपाणी ने पद्मावत को बैन कर दिया है।गुजरात से पहले राजस्थान सरकार ने भी पद्मावत को बैन कर दिया था। फिल्म के खिलाफ करणी सेना के विरोध के बाद राजस्थान सरकार ने ये फैसला लिया था। राजस्थान के गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया के मुताबिक राज्य में इस फिल्म को रिलीज करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

क्या है विवाद -

पद्मावत का विरोध इस आधार पर हो रहा है कि इसमें ऐतिहासिक तथ्‍यों से छेड़छाड़ की गई है, जिससे राजपूत राजा रतन सिंह और रानी पद्मावती के सम्‍मान पर आंच आई है। उनका कहना है कि वे इस फिल्‍म को नहीं रिलीज होने देंगे। फिल्‍म रिलीज के विरोध में कई विवादित बयान भी सामने आए थे। फिल्‍म में रानी पद्मावती का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का नाक काटने की धमकी तक दी गई। वहीं, भाजपा के एक नेता ने फिल्‍मकार संजय लीला भंसाली और दीपिका का सिर कलम करने वालों को 10 करोड़ रुपए का इनाम दिए जाने तक की घोषणा कर डाली।


कमेंट करें