अभी-अभी

नहीं रहे सुपरकॉप केपीएस गिल, इन 5 वजहों से देश उन्हें रखेगा याद

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
148
| मई 26 , 2017 , 17:12 IST | नयी दिल्ली

पंजाब के पूर्व डीजीपी कुंवर पाल सिंह गिल यानी केपीएस गिल का निधन हो गया है। शुक्रवार को दिल्ली के गंगाराम अस्पताल में उन्होंने आखिरी सांस ली। केपीएस गिल 82 साल के थे। गंगाराम में वे कई दिनों से दाखिल थे।

केपीएस गिल लंबे समय से बीमार चल रहे थे। वह किडनी से जुड़ी बीमारियों के कारण परेशान थे। शुक्रवार को किडनी फेल होने के कारण उनका निधन हो गया।

आपको बता दें गिल पंजाब के दो बार डीजीपी रहे। पंजाब में आतंकवाद खत्म कराने में उनका अहम योगदान रहा है। लोग उन्हें इस वजह से अभी तक याद करते हैं। 1989 में गिल को पद्म श्री अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था। वे भारतीय पुलिस सेवा से साल 1995 में सेवानिवृत्त हुए।

आइए जानते हैं उनसे जुड़ी 5 बड़ी बातें:

1.पंजाब में आतंकवाद के खात्मे में उन्होंने अहम भूमिका निभाई। 80 के दशक में जब पूरा पंजाब आतंकवाद की आग में झुलस रहा था तब उन्होंने खालिस्तानी आतंकवादियों से काफी सख्ती से निपटा था।

2.2006 में सुरक्षा सलाहकार रहते हुये उन्होंने छत्तीसगढ़ सरकार को बस्तर की तीन सड़कों के निर्माण की अनुशंसा की थी। ये सड़के थीं- दोरनापाल-जगरगुंडा, सुकमा कोंटा और नारायणपुर-ओरछा, जो मुश्किल से 200 किलोमीटर थीं।

3.केपीएस गिल ने अफगानिस्तान के मामले में भी काम किया था। वहां युद्ध के माहौल में 218 किलोमीटर देलारम-जरंज हाईवे का निर्माण चार साल में कराया था।

4.साल 2000 से 2004 के बीच श्रीलंका ने लिब्रेशन टाइगर्स ऑफ तमिल इलम (LTTE) के खिलाफ रणनीति बनाने में गिल से मदद मांगी गई जिसमें उन्होंने बखूबी साथ दिया।

5.गिल इंडियन हॉकी फेडरेशन (IHF) के प्रेसिडेंट भी रहे। हॉकी में योगदान के लिए भी उन्हें याद किया जाता है।

Maxresdefault


कमेंट करें