राजनीति

गैंगरेप के आरोपी समाजवादी नेता गायत्री प्रजापति को मिली जमानत

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
132
| अप्रैल 25 , 2017 , 15:22 IST | लखनऊ

अखिलेश यादव सरकार में मंत्री रहे गायत्री प्रसाद प्रजापति को दुष्कर्म के मामले में जमानत मिल गई है। गायत्री के साथ दो अन्य को पास्को कोर्ट ने जमानत दे दी है। गायत्री प्रजापति और उनके दो साथी पिंटू और विकास को पास्को कोर्ट से जमानत मिली है।

गायत्री प्रजापति की जमानत याचिका पर मंगलवार को सुनवाई हुई थी। लखनऊ जिला न्यायालय के विशेष न्यायाधीश ओ.पी. मिश्रा ने यह फैसला सुनाया है। गायत्री के खिलाफ लखनऊ के गौतमपल्ली थाने में दुष्कर्म और पास्को अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज है।

उल्लेखनीय है कि एक दिन पहले ही सोमवार को इसी मामले में उत्तर प्रदेश सरकार ने सर्वोच्च न्यायालय में स्थिति रपट दाखिल की थी। सरकार ने सर्वोच्च न्यायालय को बताया कि इस मामले में पूर्व मंत्री समेत बाकी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और मामले की जांच चल रही है। ऐसे में सर्वोच्च न्यायालय को मामले की सुनवाई बंद कर देनी चाहिए।

अखिलेश यादव सरकार में खनन मंत्री रहे गायत्री प्रसाद प्रजापति महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म और महिला की बेटी से छेड़छाड़ के आरोपों के कारण लखनऊ जेल में बंद हैं।

रेप पीड़िता के मुताबिक, साल 2014 में नौकरी और प्लॉट दिलाने के बहाने उसे गायत्री प्रसाद प्रजापति ने लखनऊ स्थित गौतमपल्ली आवास पर बुलाया। वहां चाय में नशीला पदार्थ मिलाकर पिलाया गया। इसके बाद वह अपना सुध-बुध खो बैठी, बेहोशी की हालत में मंत्री और उसके सहयोगी ने रेप किया था। इसका अश्लील वीडियो बनाते हुए तस्वीरें भी ली गई थीं। 

पीड़िता का यह भी आरोप है कि अश्लील वीडियो और तस्वीरों के जरिए गायत्री प्रसाद प्रजापति और उनके सहयोगी साल 2016 तक उसे और उसकी बेटी को हवस का शिकार बनाते रहे। इससे तंग आकर उसने 7 अक्टूबर 2016 को थाने में तहरीर दी, लेकिन उस पर पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की थी।  इसके बाद पीड़िता सूबे के आलाधिकारियों से भी मिली थी। 

Mediaj8t8Gaytri Prajapati


कमेंट करें