नेशनल

स्कूल में मासूम की जान से खिलवाड़! GD Goenka स्कूल में 10 साल के बच्चे की मौत

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
441
| अगस्त 1 , 2017 , 20:15 IST | गाजियाबाद

स्कूलों में आपके बच्चे सुरक्षित नहीं हैं! गाजियाबाद के इंदिरापुरम के शक्ति खंड स्थित जीडी गोयनका स्कूल में कक्षा 4 के छात्र अरमान की दर्दनाक मौत ने एक बार फिर से स्कूलों पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया है। परिजनों ने अरमान की मौत के लिए स्कूल प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया है। परिजनों का आरोप है कि स्कूल की सीढिय़ों पर पानी पड़ा था। इसके कारण अरमान सीढ़ियों से फिसल गया और उसकी मौत हो गई। इस घटना के बाद एक बार फिर स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा को लेकर सवाल उठने लगे हैं।

Fe948b60-5369-40b6-94e3-96e5aae55d15

सबसे बड़ा सवाल यह है कि इतने महंगे स्कूलों में भी मासूमों की जान सुरक्षित क्यों नहीं है? आखिर स्कूलों में होने वाली मौतों के लिए कौन जिम्मेदार है?

वहीं, अरमान की मां ने आरोप लगाते कहा है कि स्कूल प्रबंधन ने इस मामले में पुलिस को कोई जानकारी नहीं दी। जब छात्र को शांति गोपाल अस्पताल में भर्ती कराया गया तो अस्पताल की ओर से पुलिस को फोन किया गया।

Ff02a059-9eb3-494c-a3aa-3d972300f4e8

सीढी पर पैस फिसलने से हुई मौत

वहीं, इस घटना के बाद से स्कूल में हड़कंप मचा हुआ है। जानकारी के अनुसार चौथी क्लास का छात्र अरमान जा रहा था। क्लास में जाने के दौरान उसका पैर फिसल गया और बुरी तरह जख्मी हो गया। आनन-फानन में बच्चे को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसकी मौत हो गई। मृतक छात्र की मां स्वाति गृहणी हैं तो पिता गुलशन जिंदल विश्विद्यालय सोनीपत में मार्केटिंग डायरेक्टर हैं।

बताया जा रहा है कि बच्चे की बस छूट गई थी। परीक्षा (टेस्ट) होने के कारण पिता उसे स्कूल छोड़ कर आए थे। घर पहुंचने के करीब 10 मिनट बाद स्कूल से फोन आया कि बच्चा सीढ़ियों से कॉरिडोर में गिर गया है। शांति गोपाल अस्पताल ले जाया जा रहा है। अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टरों ने मां-बाप को बताया कि बच्चे की मौत हो चुकी है।

सुनिए बच्चों के अभिभावकों का गुस्सा

देखिए वीडियो


कमेंट करें

अभी अभी